आठ व नौ नंबर प्लेटफॉर्म पर लगाये जायेंगे 16 कैटरिंग स्टॉल

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
गया : गया रेलवे स्टेशन स्थित आठ व नौ नंबर प्लेटफॉर्म का एक साल पहले विस्तार किया गया था. लेकिन, अाज तक इस प्लेटफॉर्म पर न तो शेड लगाया गया और न यात्री सुविधा दी गयी. लेकिन, एक साल बाद रेलवे अधिकारियों ने एक निर्णय लियाहै कि आठ व नौ नंबर प्लेटफॉर्मपर रेलयात्रियों को सुविधा मुहैया करायी जाये.
रेलवे अधिकारियों ने बताया कि इसके लिए फंड आ गया है. अब आठ व नौ नंबर प्लेटफॉर्म पर जल्द से जल्द शेड का निर्माण किया जायेगा. उन्होंने कहा कि गर्मी व बरसात में रेलयात्रियों को इन प्लेटफॉर्मों पर खड़ा होने में परेशानियों का सामना करना पड़ता था. रेलवे अधिकारियों ने बताया कि आठ न नौ नंबर प्लेटफॉर्म पर 16 कैटरिंग खुलने जा रहे हैं.
अब इन प्लेटफॉर्मों पर भी रेलयात्री खान-पान व पानी पीने के लिए बोतल खरीद सकेंगे. अभी रेलयात्रियों को खान-पान की सामग्री खरीदने के लिए एक नंबर प्लेटफॉर्म या फिर चार-पांच नंबर प्लेटफॉर्म पर आना पड़ता है. इस कारणकई बार यात्रियों की ट्रेन भी छूट जाती है. रेलयात्रियों की परेशानियों को देखते हुए इन प्लेटफॉर्मों पर 16 कैटरिंग स्टॉल खोलने का निर्णय लिया गया है.
वाटर कूलर लगाने का लिया निर्णय
रेलवे अधिकारियों ने बताया कि आठ व नौ नंबर प्लेटफॉर्म पर चार वाटर कूलर व छह वाटर वेंडिंग मशीन लगाने का निर्णय लिया गया है. उन्होंने बताया कि वरीय अधिकारियों द्वारा यह निर्णय लिंया गया है. रेलवे अधिकारियों ने बताया कि एक नंबर प्लेटफॉर्म से लेकर छह नंबर प्लेटफॉर्म पर वाटर कूलर लगाये गये हैं. वहीं कई वाटर वेंडिंग मशीन भी लगाये गये हैं. लेकिन, आठ व नौ नंबर प्लेटफॉर्म पर अतिरिक्त वाटर वेंडिंग मशीन लगाये जायेंगे.
सबसे ज्यादा नौ नंबर प्लेटफॉर्म पर होती है भीड़
गया से पटना जाने के लिए सबसे ज्यादा आठ व नौ नंबर प्लेटफॉर्म पर भीड़ होती है. लेकिन, इन प्लेटफॉर्मों पर यात्रियों के लिए कोई सुविधा नहीं है. इस कारण यात्रियों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है. इन्हीं समस्याओं को देखते हुए रेलवे अधिकारियों ने यह निर्णय लिया है.
नये दर से लिया जायेगा किराया
गया. गया जंक्शन के प्लेटफॉर्म पर स्थित टी-स्टॉल व कैटरिंग से अब नये दर से किराया लिया जायेगा. इस संबंध में वाणिज्य पर्यवेक्षक रंजीत कुमार ने बताया कि टी-स्टॉल व कैटरिंग का टेंडर होने जा रहा है. अब इन स्टॉल संचालकों से जीएसटी लगा कर नये दर से किराया लिया जायेगा. पहले बिना जीएसटी के ही किराया लिया जा रहा था. उन्होंने बताया कि हर स्टॉल से अलग-अलग किराया लिया जायेगा. उन्होंने बताया कि हर स्टॉल का जीएसटी लगाकर सालाना किराया करीब 15-20 लाख रुपये कर दिया गया है.
Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें