30.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

क्या होता है BEV, HEV, PHEV और FCEV? Electric Vehicles खरीदने से पहले जानें इनके प्रकार

Electric Vehicles की लागत समय के साथ कम हो रही है, वे अब अधिक किफायती हो रहे हैं और लंबे समय में संचालन की लागत कम हो सकती है. इलेक्ट्रिक व्हीकल में कई प्रकार होते हैं, आज हम सभी टाइप के इलेक्ट्रिक व्हीकल्स के बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे.

4 Types Of EVs: Electric Vehicles (EV) ऐसे वाहन हैं जो इलेक्ट्रिक मोटरों द्वारा संचालित होते हैं, वे जीवाश्म ईंधन, जिसमें गैसोलीन या डीजल का उपयोग नहीं किया जाता हैं, इसलिए वे प्रदूषण में कमी का योगदान करते हैं. EV गैसोलीन या डीजल वाहनों की तुलना में अधिक कुशल होते हैं. वे ईंधन की खपत को कम कर सकते हैं, जिससे संचालन की लागत भी कम हो सकती है. ईवी की लागत समय के साथ कम हो रही है, वे अब अधिक किफायती हो रहे हैं और लंबे समय में संचालन की लागत कम हो सकती है. मगर इलेक्ट्रिक व्हीकल में कई प्रकार होते हैं, आज हम सभी टाइप के इलेक्ट्रिक व्हीकल्स के बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे.

Komaki Cat 2.0 NXT: मात्र 99,000 में स्ट्रीट वेंडर्स का इलेक्ट्रिक लोडर, 140 की रेंज, 80 की स्पीड

बैटरी इलेक्ट्रिक वाहन (BEV)

BEV सबसे आम प्रकार के ईवी हैं. उन्हें बैटरी से ऊर्जा मिलती है, जो वाहन के नीचे या पीछे स्थित होती है. बैटरी को इलेक्ट्रिक आउटलेट से चार्ज किया जाता है. BEV का कोई धुव्र नहीं होता है, जिसका अर्थ है कि वे कार्बन डाइऑक्साइड या अन्य प्रदूषक नहीं छोड़ते हैं. वे ईंधन की खपत को भी कम करते हैं और लागत प्रभावी हो सकते हैं. BEV की कुछ सीमाएँ हैं. उनकी रेंज सीमित हो सकती है, जिसका अर्थ है कि उन्हें अक्सर चार्ज करने की आवश्यकता होती है. वे महंगे भी हो सकते हैं, भले ही उनके स्वामित्व और संचालन की लागत लंबे समय में कम हो सकती है.

Driving Tips: जल्दी ड्राइविंग सीखने के लिए इन ट्रिक्स को अपनाएं

हाइब्रिड इलेक्ट्रिक वाहन (HEV)

HEV एक पारंपरिक गैसोलीन इंजन और एक इलेक्ट्रिक मोटर के साथ एक संकर वाहन है. इलेक्ट्रिक मोटर तब चालू हो जाती है जब वाहन को कम गति से चलाया जाता है या जब ब्रेक लगाए जाते हैं. यह ईंधन की खपत को कम करने में मदद करता है. HEV की कुछ सीमाएँ हैं. वे BEV की तुलना में कम पर्यावरण के अनुकूल होते हैं क्योंकि वे अभी भी गैसोलीन का उपयोग करते हैं. वे BEV की तुलना में कम किफायती भी हो सकते हैं क्योंकि उन्हें एक गैसोलीन इंजन और एक इलेक्ट्रिक मोटर दोनों के लिए रखरखाव और मरम्मत की आवश्यकता होती है.

Car Fire Causes: इस वजह से लगती है कार में आग, थोड़ी सी सतर्कता से रुक सकती है बड़ी दुर्घटना

Plug-in हाइब्रिड इलेक्ट्रिक वाहन (PHEV)

PHEV एक HEV के समान है, लेकिन इसमें एक बड़ा बैटरी पैक होता है जिसे बाहर से चार्ज किया जा सकता है. PHEV को कुछ किलोमीटर तक शुद्ध रूप से बिजली से चलाया जा सकता है, लेकिन जब बैटरी खत्म हो जाती है तो गैसोलीन इंजन चालू हो जाता है. PHEV HEV और BEV के बीच का एक अच्छा संतुलन प्रदान करता है. वे HEV की तुलना में अधिक पर्यावरण के अनुकूल होते हैं क्योंकि वे अधिक बिजली का उपयोग करते हैं. वे BEV की तुलना में अधिक किफायती भी हो सकते हैं क्योंकि उन्हें चार्ज करने के लिए केवल कुछ घंटों की आवश्यकता होती है.

कार या बाइक की टंकी में चीनी डालने पर क्या होगा? जान कर सिर पकड़ लेंगे आप

फुल हाइब्रिड इलेक्ट्रिक वाहन (FCEV)

FCEV को हाइड्रोजन ईंधन सेल से ऊर्जा मिलती है. हाइड्रोजन ईंधन सेल हाइड्रोजन और ऑक्सीजन को पानी और बिजली में परिवर्तित करता है. FCEV को केवल कुछ मिनटों में हाइड्रोजन से भरा जा सकता है और वे लंबी दूरी तक जा सकते हैं. FCEV सबसे पर्यावरण के अनुकूल प्रकार के ईवी हैं. वे प्रदूषण में कमी का सबसे बड़ा योगदान देने की क्षमता रखते हैं. वे BEV और PHEV की तुलना में अधिक महंगे भी हो सकते हैं क्योंकि हाइड्रोजन ईंधन सेल अभी भी विकास के अधीन हैं.

कुल मिलाकर, इलेक्ट्रिक वाहन एक बढ़ता हुआ बाजार हैं जो पर्यावरण की रक्षा करने में मदद करने की क्षमता रखते हैं. वे ईंधन की खपत को कम कर सकते हैं और प्रदूषण में कमी ला सकते हैं.

Taisor Vs Fronx: दो जुड़वा बहनों की अजब कहानी, जानें दोनों में क्या है समानता और अंतर?

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें