1. home Hindi News
  2. world
  3. lockdown in china covid19 cases on rise phasewise lockdown in shanghai mtj

Lockdown in China: तेजी से बढ़ रहे कोरोना के मामले, शंघाई में कल से लगेगा लॉकडाउन

चीन का शंघाई शहर कोरोना का हॉटस्पॉट बन गया है. कई शहरों में पहले ही लॉकडाउन लगाया जा चुका है, लेकिन कोरोना का संक्रमण है कि थमने का नाम ही नहीं ले रहा. इसलिए शंघाई में दो बैच में 28 मार्च से 5 अप्रैल तक लॉकडाउन लगाने का फैसला किया गया है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Lockdown in China: शंघाई में कल से लॉकडाउन
Lockdown in China: शंघाई में कल से लॉकडाउन
प्रभात खबर

Lockdown in China: चीन अपने देश में 28 मार्च 2022 से लॉकडाउन लगाने जा रहा है. न्यूज एजेंसी एएफपी ने चीन की सरकार के हवाले से कहा है कि शंघाई में सोमवार (28 मार्च) से फेजवाईज लॉकडाउन लगने जा रहा है. इसकी वजह यह है कि चीन में एक बार फिर कोरोनावायरस का संक्रमण तेजी से फैलने लगा है.

कोरोना का हॉटस्पॉट बना शंघाई

बताया जा रहा है कि चीन का शंघाई शहर कोरोना का हॉटस्पॉट बन गया है. कई शहरों में पहले ही लॉकडाउन लगाया जा चुका है, लेकिन कोरोना का संक्रमण है कि थमने का नाम ही नहीं ले रहा. इसलिए शंघाई में दो बैच में 28 मार्च से 5 अप्रैल तक लॉकडाउन लगाने का फैसला किया गया है.

तेजी से बढ़ रहे कोरोना के मामले

शंघाई शहर के प्रशासन ने कहा है कि कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. तमाम कोशिशों के बावजूद संक्रमण की रफ्तार कम नहीं हो रही. इसलिए तय किया गया है कि जांच अभियान तेज किया जाये. इसके लिए सभी लोगों का घर में रहना अनिवार्य है. हालांकि, चीन की सरकार पूरी तरह से लॉकडाउन के पक्ष में नहीं है.

दो बैच में लगेगा लॉकडाउन

इसलिए शंघाई शहर में दो बैच में लॉकडाउन लगाया जायेगा और तेजी से कोरोना जांच की जायेगी, ताकि वैश्विक महामारी को नियंत्रित करने की पुख्ता रणनीति बनायी जा सके. शंघाई की सरकार ने अपने आधिकारिक सोशल मीडिया साइट वीचैट (WeChat) पर कहा है कि लॉकडाउन के दौरान पब्लिक ट्रांसपोर्ट का परिचालन पूरी तरह से बंद रहेगा.

फैक्टरियों में उत्पादन रहेगा बंद

इतना ही नहीं, सभी कंपियों एवं फैक्टरियों में उत्पादन बंद रहेगा. संस्थान चाहे शहर में हों या सुदूर गांव में. सभी संस्थान बंद रहेंगे. खाद्य आपूर्ति समेत सिर्फ जरूरी सेवाएं जारी रहेंगी. बता दें कि चीन में कोरोना के बढ़ते मामलों में प्रशासन के हाथ-पैर फूल गये हैं. शंघाई में शनिवार को कोरोना के 2,676 नये मामले सामने आये. एक दिन पहले की तुलना में यह 18 फीसदी ज्यादा है.

2.6 करोड़ है शंघाई की आबादी

बता दें कि शंघाई की आबादी करीब 2.6 करोड़ है. तीन दिन से यहां कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं. 24 मार्च को 1,609 संक्रमित मिले थे, जबकि 25 मार्च को यह संख्या बढ़कर 2,267 हो गयी. 26 मार्च को यह संख्या 2676 गयी. कोरोना की बढ़ती रफ्तार ने चीन को चिंतित कर दिया है.

चीन का वैक्सीन नाकाम

हांगकांग विश्वविद्यालय के एक अध्ययन में कहा गया है कि चीन में विकसित कोरोना वैक्सीन SinoVac ओमिक्रॉन के खिलाफ एंटीबॉडी विकसित करने में नाकाम है. बता दें कि SinoVac की दो खुराक लेने वालों की जान भी इससे न बच सकी. वर्ष 2021 तक चीन की 1.6 बिलियन आबादी को 2.6 मिलियन से अधिक वैक्सीन की डोज दी जा चुकी है.

संपूर्ण लॉकडाउन से इंकार

इंटरनेशनल न्यूज एजेंसी एएफपी की मानें, तो चीन ने शंघाई में संपूर्ण लॉकडाउन लगाने से साफ इंकार कर दिया है. उसका कहना है कि शंघाई वैश्विक शिपिंग हब है. अगर यहां कम्प्लीट लॉकडाउन लगाया गया, तो वैश्विक अर्थव्यवस्था प्रभावित हो सकती है.

Posted By: Mithilesh Jha

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें