1. home Hindi News
  2. tech and auto
  3. e commerce platforms are hiding negative reviews and ratings these things came out in the report sbh

E-Commerce प्लैटफॉर्म छिपा रहे नेगेटिव रिव्यू और रेटिंग, रिपोर्ट में सामने आयी ये बातें

हाल ही में एक रिपोर्ट सामने आयी है, जिसमे बताया गया है कि किस तरह से E-Commerce साइट्स ग्राहकों के नेगेटिव रिव्यू और रेटिंग्स को छिपा रहे हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
e-commerce shopping
e-commerce shopping
fb

E-Commerce Negative User Review and Rating: हम सभी ने कभी न कभी ऑनलाइन शॉपिंग तो जरूर ही की है. ऑनलाइन शॉपिंग करते वक़्त हम इस बात का ध्यान जरूर रखते हैं कि हम जिस प्रोडक्ट को खरीद रहे हैं उसे अच्छी रेटिंग और रिव्यू मिली हो. लेकिन क्या हो अगर E-Commerce साइट्स अपने प्रोडक्ट पर दिए जाने वाले नेगेटिव रिव्यू और रेटिंग्स को छुपा दें तो? क्या उस प्रोडक्ट को खरीदने के बाद आपका यूजर एक्सपीरियंस अच्छा रहेगा? इन सभी बातों को आज हम आपको डीटेल में बताने वाले हैं.

रिपोर्ट में सामने आयी ये बातें

एक रिपोर्ट में सामने आया कि हर 2 में से 1 व्यक्ति के नेगेटिव रिव्यू और रेटिंग को E-Commerce साइट्स पर छुपाया जाता है. 100 में से केवल 23 लोगों के नेगेटिव रिव्यू और रेटिंग्स को इन साइट्स पर दर्शाया जाता है और वहीं 100 में से 65 लोगों ने इन रेटिंग और रिव्यू में पक्षपात होने का दावा किया है. सामने आयी इस रिपोर्ट से हमें यह पता चलता है की ग्राहकों को लुभाने के लिए E-Commerce प्लैटफॉर्म्स इस तरह की तरकीबें अपना रहे हैं. एक सर्वे में शामिल 100 लोगों में से 90 लोगों ने इस बात का जिक्र किया है कि सेलर्स के द्वारा E-Commerce साइट्स पर कम रेटिंग और रिव्यू मिले प्रोडक्ट्स को बेचने से रोका जाना चाहिए.

सोशल मीडिया इन्फ्लुएंसर्स की मदद से भी बेचे जाते हैं ऐसे प्रोडक्ट्स

सामने आयी रिपोर्ट की मानें तो सेलर्स अपने दोस्तों, रिश्तेदारों और सोशल मीडिया इन्फ्लुएंसर्स की मदद लेकर ऐसे प्रोडक्ट्स को ज्यादा दाम और बेहतर बताकर बेच रहे हैं. इस तरह की पॉजिटिव रिव्यू और रेटिंग की वजह से इन बेकार प्रोडक्ट्स की बिक्री बढ़ जाती है. ऐसा करना गलत है क्योंकि इससे ग्राहक गुमराह हो जाते हैं और गलत प्रोडक्ट खरीद लेते हैं. हाल ही में इस विषय पर E-Commerce प्लेटफॉर्म से नकली या फिर पैसे देकर रिव्यू कराने के मामलों को कम करने को लेकर बातचीत शुरू की गयी है.

इन बदलावों की है जरूरत

  • वेरिफाइड ग्राहक जिन्होंने वास्तव में उस प्रोडक्ट एक इस्तेमाल किया है केवल वे ही इन प्रोडक्ट्स की रिव्यू और रेटिंग कर सकें.

  • नेगेटिव रिव्यू और रेटिंग दी जाने की अनुमति हो लेकिन ग्राहक के भाषा पर भी नियंत्रण रखा जाए.

  • नेगेटिव रिव्यूऔर रेटिंग मिले प्रोडक्ट्स को दोबारा प्रोडक्ट्स की लिस्ट में शामिल न किया जाए.

Prabhat Khabar App :

देश, दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, टेक & ऑटो, क्रिकेट और राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें