1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. hazaribagh
  5. look at the lockdown in barkagaon views the yoga being done to the migrant magistrates at the corentine center on the other hand there is a stir in the markets

बड़कागांव में लॉकडाउन का देखिए नजारा, प्रवासी मजदरों को कोरेंटिन सेंटर में कराया जा रहा योगा, तो दूसरी तरफ बाजारों में बढ़ी चहल-पहल

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
योगा सिखते प्रवासी मजदूर और बाजारों में बढ़ी चहल-पहल.
योगा सिखते प्रवासी मजदूर और बाजारों में बढ़ी चहल-पहल.
फोटो : प्रभात खबर.

बड़कागांव (हजारीबाग) : हजारीबाग जिला अंतर्गत बड़कागांव प्रखंड क्षेत्र में इन दिनों दो तरह का नजारा देखने को मिल रहा है. एक तरफ प्रखंड के नव प्राथमिक विद्यालय, पकरिया टोला गोंदलपुरा के कोरेंटिन सेंटर में रह रहे प्रवासी मजदूरों को योग सिखाया जा रहा है. वहीं, जिले में धारा 144 लागू होने के बावजूद बड़कागांव एवं बादम के चौक- चौराहे, गली -मोहल्लों व बाजारों में भीड़ उमड़ने लगी है. इससे लॉकडाउन एवं सोशल डिस्टेेंसिंग के नियमों का खुलेआम उल्लंघन हो रहा है. पढ़ें संजय सागर की रिपोर्ट.

झारखंड के बाहर से आने वाले प्रवासियों मजदूरों को पहले कोरेंटिन सेंटर में रखा जाता है. इसी कड़ी में बड़कागांव प्रखंड अंतर्गत नव प्राथमिक विद्यालय, पकरयाि टोला गोंदलपुरा के केरोंटिन सेंटर में कई प्रवासी मजदूरों को रखा गया है. इस सेंटर में प्रवासी मजदूरों को योग कराया जा रहा है. पूर्व मुखिया श्रीकांत निराला नियमित रूप से प्रवासी मजदूरों को योग सीखा रहे हैं. इस अवसर पर गोंदलपुरा पंचायत की मुखिया पानो देवी भी मौजूद रहती हैं.

योग सीखा रहे पूर्व मुखिया सह प्रशिक्षक श्रीकांत निराला ने कहा कि प्रवासी मजदूरों को कोरोना महामारी की रोकथाम एवं स्वस्थ्य रहने को लेकर उन्हें जागरूक किया जा रहा है. नियमित योग करने से मनुष्य स्वस्थ्य रहता है. इस कारण घर में भी हमेशा योग करते रहना चाहिए. वहीं, कर्णपुरा महाविद्यालय बड़कागांव के राष्ट्रीय सेवा योजना पदाधिकारी प्रो सुरेश महतो ने कहा कि लोगों से आग्रह किया कि समाजिक दूरी बना कर रहें. साथ ही जब भी घर से बाहर निकले, मास्क लगा कर ही निकलें.

एनएससी टीम चला रही है जागरूकता अभियान

एनएसएस के कार्यक्रम पदाधिकारी प्रो सुरेश महतो के नेतृत्व में शिक्षक रितुराज, स्वयं सेवक विनय कुमार राणा, अनिल कुमार दांगी, रघु तुरी, योग करते प्रवासी गणेश तुरी, दशरथ तुरी, रघुनाथ गोप, बालेश्वर महतो, विजय तुरी, कुलेश्वर तुरी, राजकुमार तुरी एवं शशि कुमार तुरी इस महामारी से बचने के लिए जागरुकता अभियान भी चला रहे हैं.

धारा 144 लागू होने के बावजूद भी चौक- चौराहों में भीड़

हजारीबाग जिले में धारा 144 लागू होने के बावजूद भी बड़कागांव एवं बादम के चौक- चौराहों, गली -मोहल्लों व बाजारों में भीड़ लगी रहती है. लॉकडाउन एवं सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन खुलेआम हो रहा है. बड़कागांव प्रखंड तथा बादम के विभिन्न क्षेत्रों में 4 दिनों से बाजार की अधिकांश दुकानें खुली है. इन दुकानों में लोगों की भीड़ रहती है. यहां सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं होता है. पुलिस- प्रशासन द्वारा बार-बार समझाने के बावजूद भी लोग नहीं मान रहे हैं.

बड़कागांव दैनिक बाजार एवं बादम में सैकड़ों दुकानें खुली हैं. सब्जियों की खरीद-बिक्री होने लगी है, लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कहीं नहीं हो रहा है. अधिकांश लोग बिना मास्क लगाए बाजार में घूम रहे हैं. ज्ञात हो कि बड़कागांव प्रखंड में 500 से अधिक प्रवासी मजदूर होम कोरेंटिन एवं कोरोटाइन वार्ड में भर्ती हैं. एनटीपीसी के आईटीआई कॉलेज को जिला कोरोटाइन सेंटर बनाया गया है. इस सेंटर में अब तक 7 संक्रमित मरीजों को चिह्नित किया गया है. इसके बावजूद भी लोग घरों से बाहर निकलने से परहेज नहीं कर रहे हैं.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें