गोली-बम से दहला झरिया का घनुडीह क्षेत्र, देसी कारबाइन के साथ तीन झामुमो समर्थक गिरफ्तार

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
घनुडीह : बीसीसीएल बस्ताकोला क्षेत्र के केओसीपी अंतर्गत एनसी पैच पार्ट टू में सोमवार की अलसुबह ताबड़तोड़ फायरिंग व बम विस्फोट किया गया. तीन कर्मी घायल हो गये. आरोप झारखंड मुक्ति मोर्चा के सदस्यों पर लगा है. घटना के बाद पुलिस ने तीन झामुमो समर्थकों को देसी कारबाइन के साथ गिरफ्तार किया है.
साथ ही, परियोजना से छह जिंदा गोली, चार मोबाइल व बड़ी संख्या में तीर-धनुष बरामद भी बरामद किया गया है. कुइयां प्रबंधन ने झामुमो समर्थकों के खिलाफ घनुडीह ओपी में शिकायत की है. लगभग 21 लाख नुकसान होने का दावा किया है. डीएसपी ने कहा है कि बीजीआर प्रबंधन की शिकायत व घायलों के फर्द बयान के आधार पर आरोपियों पर कार्रवाई की जायेगी.
तीन दिन पहले झामुमो ने किया था बैठक का बहिष्कार : बीजीआर प्रबंधन द्वारा आहूत वार्ता का तीन पहले भी झामुमो ने बहिष्कार कर दिया था. वार्ता कुइयां पीओ कार्यालय में हो रही थी. झामुमो की ओर से जिलाध्यक्ष रमेश टुडू और महासचिव पवन महतो मौजूद थे. प्रबंधन द्वारा वार्ता के लिए क्लर्क को भेज दिये जाने से वार्ता का बहिष्कार किया गया था. इसके बाद अल्टीमेटम दिया था उनके समर्थक मजदूरों को भी वहां काम देना होगा.
सैकड़ों झामुमो समर्थकों ने सुबह पांच बजे ही कर दिया हमला
एनसी पैच में कार्यरत मजदूरों के अनुसार एनसी पैच पार्ट-टू में पूर्व निर्धारित आंदोलनात्मक कार्यक्रम के लिए झामुमो के सैकड़ों समर्थक हरवे-हथियार के साथ सोमवार की सुबह पांच बजे ही परियोजना पहुंच गये. वे पहली पाली से ही काम बंद कराना चाह रहे थे. उनकी मांग थी कि स्थानीय युवकों को वहां रोजगार मिले.
परियोजना के निकट आते ही हवाई फायरिंग व बमबाजी कर दहशत फैलायी गयी. जैसे ही काम बंद कराने लगे वहां कार्यरत कर्मियों ने विरोध किया तो जमसं बच्चा गुट समर्थक बलराम सिंह (42) को रॉड से मार कर घायल कर दिया. इसके विरुद्ध कर्मियों ने पथराव किया तो झामुमो समर्थक तीर चलाने लगे. उसमें मासस समर्थक बबलू दास (40) की बायीं तरफ पेट में तीर लगा. तीर लगने के भय से पोकलेन ऑपरेटर परवेज आलम मशीन से कूद कर घायल हो गया.
तीनों घायलों को इलाज कराने के लिए बीजीआर प्रबंधन व घनुडीह पुलिस ने पीएमसीएच धनबाद भेजा, जहां चिकित्सकों ने घायल बलराम सिंह को बोकारो रेफर कर दिया. वहां उनकी हालत चिंताजनक देखकर परिजन रांची मेेदांता अस्पताल ले गये. दूसरे घायल मासस समर्थक बबलू दास को धनबाद के एक निजी अस्पताल में ऑपरेशन कर तीर निकाला गया.
पुलिस ने खदेड़ कर तीन समर्थकों को पकड़ा
सूचना पाकर सिंदरी डीएसपी प्रमोद कुमार केसरी, झरिया इंस्पेक्टर यूएन राय, जोड़ापोखर इंस्पेक्टर गेंदरू भगत, जोड़ापोखर थानेदार जयकृष्ण, घनुडीह ओपी प्रभारी चंदन कुमार समेत इलाके के पुलिस अधिकारी दल-बल के साथ पहुंचे. डीएसपी ने कार्यरत कर्मियों से पूरे मामले की जानकारी ली. कई थानों की पुलिस ने घेराबंदी कर कुइयां जो़ड़िया के पास से खदेड़ कर भाग रहे तीन झामुमो समर्थक रमेश महतो, सुदाम रजवार व निर्मल महतो को देसी कारबाइन के साथ गिरफ्तार किया. साथ ही, परियोजना से दो जिंदा गोली व तीर धनुष भी बरामद किया.
कुइयां प्रबंधन ने की लिखित शिकायत
कुइयां कोलियरी के सहायक प्रबंधक ब्रह्मदेव सिंह ने घनुडीह ओपी में शिकायत की है. कहा है कि एनसी पैच में सोमवार को झामुमो समर्थकों ने हिंसात्मक कार्रवाई करते हुए जबरन काम बंद करा दिया. झामुमो नेता रमेश महतो व रवींद्र सिंह के नेतृ्त्व में समर्थकों ने बम व गोली चलायी. इससे प्रबंधन को करीब 21 लाख रुपये का नुकसान हुआ. साथ ही, 2622 क्यूबिक ओबी मीटर का उत्पादन प्रभावित हुआ. झामुमो के हिंसात्मक आंदोलन से कर्मी व मजदूर भयभीत हैं. देशहित में उक्त घटना निंदनीय है.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें