गांधी सेतु के जीर्णोद्धार के लिए तीसरे सप्ताह में आयेगी एजेंसी

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
पटना : महात्मा गांधी सेतु के ऊपरी स्ट्रक्चर को बदलने के लिए चयनित एजेंसी रूस की फिबमॉफ तीसरे सप्ताह में पूरी तैयारी के साथ आयेगी. सड़क मंत्रालय से एजेंसी को फाइनल ऑर्डर मिलने का इंतजार है. जानकारों के अनुसार 11 नवंबर तक एजेंसी को ऑर्डर पेपर मिलने की संभावना है. इसके बाद एजेंसी पूरी तैयारी के साथ आयेगी. लगभग 17 सौ करोड़ की लागत से गांधी सेतु के ऊपरी स्ट्रक्चर को बदलने के लिए एजेंसी को एग्रीमेंट लेटर पहले मिल चुका है. चयनित एजेंसी के अधिकारियों ने गांधी सेतु का निरीक्षण किया है.
सेतु की मरम्मत के काम की देखरेख के लिए पथ निर्माण विभाग अलग से एक मॉनीटरिंग यूनिट की तैयारी शुरू कर दी है. गांधी सेतु के जीर्णोद्धार की जिम्मेवारी रूस की कंपनी फिबमॉफ को मिली है. मुंबई की कंपनी एफकॉन्स के साथ ज्वाइंट वेंचर में सेतु के ऊपरी स्ट्रक्चर काे बदलने का काम होगा.
सेतु के ऊपरी स्ट्रक्चर के निर्माण की देखरेख सेपरेट प्रोजेक्ट इंपलीमेंटेशन यूनिट काम करेगी. यह काम पथ निर्माण विभाग की पटना डिविजन करेगी.
पश्चिमी लेन से शुरू होगा काम
सेतु के ऊपरी स्ट्रक्चर के बदलने का काम अप स्ट्रीम यानि पश्चिमी लेन से आरंभ होगा. पश्चिमी लेन में पाया संख्या 46 के पास कटिंग होने के कारण काम शुरू करने में सहूलियत होगी. ऊपरी स्ट्रक्चर को बदलने में लगभग चार साल लगेंगे. इस दौरान यातायात बाधित नहीं होगा.
Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें