जेइइ मेन : जनवरी में रैंक नहीं मिला, तो अप्रैल में मौका

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

पटना : नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने जेइइ मेन का रिजल्ट जारी कर दिया है. इस बार घोषित तारीख से 15 दिन पहले ही जेइइ मेन का रिजल्ट जारी किया गया है. यह रिजल्ट 31 जनवरी को जारी होना प्रस्तावित था, लेकिन एनटीए ने रिकॉर्ड टाइम में परिणाम जारी करके स्टूडेंट्स से लेकर पैरेंट्स तक सबको चौंका दिया. एनटीए की ओर से देश के 23 आइआइटी और 31 एनआइटी सहित देश के अन्य प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग कॉलेजों में एडमिशन का मौका मिलेगा. सात से नौ जनवरी के बीच 8,69,010 लाख स्टूडेंट्स ने यह परीक्षा दी थी.

जनवरी में बेहतर प्रदर्शन नहीं करने वाले स्टूडेंट्स के पास एक और मौका है. स्टूडेंट्स अब जेइइ मेन अप्रैल में शामिल हो कर बेहतर प्रदर्शन कर सकते हैं. जेइइ मेन अप्रैल, 2020 के लिए फॉर्म भरने की प्रक्रिया 7 फरवरी से शुरू हो जायेगी. परीक्षा फॉर्म 7 मार्च तक ऑनलाइन एनटीए की वेबसाइट पर जाकर भर सकते हैं. फीस 8 मार्च तक जमा कर सकते हैं.
जेइइ मेन अप्रैल, 2020 की परीक्षा ऑनलाइन मोड में 5 अप्रैल, 7 से 9 अप्रैल और 11 अप्रैल को आयोजित होगी. जेइइ मेन जनवरी और जेइइ मेन अप्रैल के एनटीए के आधार पर रैंक लिस्ट जारी होगी. जेइइ मेन में बेहतर प्रदर्शन करने वाले स्टूडेंट्स को जेइइ एडवांस परीक्षा में बैठने का मौका मिलेगा. इसके लिए दो लाख 50 हजार अभ्यर्थी को जेइइ एडवांस के लिए सेलेक्ट किया जायेगा.
17 मई को जेइइ एडवांस, सूबे के 38 कॉलेजों में होगा एडमिशन
जेइइ एडवांस 2020 का आयोजन 17 मई को होगा. इसमें दो पेपर होंगे. पहला पेपर सुबह नौ से 12 बजे तक और दूसरा दोपहर ढाई से साढ़े पांच बजे तक होगा. जेइइ एडवांस का रिजल्ट आठ जून को जारी होगा. आर्किटेक्चर एप्टीट्यूड टेस्ट का आयोजन 12 जून को होगा. रिजल्ट 16 जून को जारी होगा. सीटों का आवंटन 17 जून से शुरू हो जायेगा.
10 हजार सीटों पर होगा एडमिशन :
बिहार के 38 सरकारी इंजीनियरिंग कॉलेजों में एडमिशन के लिए अलग से कोई टेस्ट आयोजित नहीं होगा. बी-टेक के करीब 10 हजार सीटों पर जेइइ मेन के स्कोर पर ही एडमिशन होगा. जेइइ मेन जनवरी और अप्रैल दोनों का स्कोर कार्ड मान्य होगा.
जेइइ एडवांस के लिए मॉक टेस्ट लिंक जारी
नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने शनिवार को जेइइ एडवांस 2020 के लिए मॉक टेस्ट जारी कर दिया है. एनटीए ने इसके लिए लिंक वेबसाइट पर दे दिया है. मेन परीक्षा में बेहतर करने वाले स्टूडेंट्स मॉक टेस्ट में शामिल हो सकते हैं. मॉक टेस्ट के माध्यम से स्टूडेंट्स जेइइ एडवांस के पैटर्न और प्रश्न पूछने के तरीके को समझ सकते हैं. मॉक टेस्ट में फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथ के तीन-तीन सेक्शन हैं.
परीक्षार्थी उत्तर देने के बाद विकल्प बदल भी सकते हैं. जेइइ एडवांस की परीक्षा 180 मिनट की होगी. मॉक टेस्ट में भी टाइम पूरा होने पर खुद ही पेपर सबमिट हो जायेगा.
जेइइ मेेन में तीन सवाल थे गलत
पटना. सात से नौ जनवरी तक हुए जेइइ मेन में तीन सवाल गलत पूछे गये थे. ये सवाल अलग-अलग शिफ्टों में गलत पूछे गये थे. इन सवालों को हटाकर नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) रिजल्ट जारी किया है. इसमें फिजिक्स के दो तथा गणित के एक सवाल गलत थे. फाइनल आंसर की में बताया गया है कि गलत सवालों को रद्द कर दिया गया. इसके बाद रिजल्ट जारी किया गया है.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें