पटना : पटना : 10 दुकानों पर छापे, 5 को नोटिस, एक पर केस

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
पटना : धनतेरस को देखते हुए माप-तौल विभाग ने राजधानी पटना में रविवार को दस प्रतिष्ठानों पर छापेमारी की गयी. इनमें से 5 को नोटिस दिया गया और एक पर केस दर्ज किया गया. चार प्रतिष्ठानों के तराजू और बटखरे को जब्त किया गया. बता दें कि पिछले तीन दिन के अंदर आठ जिले के 76 प्रतिष्ठानों में छापेमारी की गयी. इनमें से 18 प्रतिष्ठानों में अनियमितता पायी गयी. विभाग से मिली जानकारी के अनुसार इनमें से 5 प्रतिष्ठानों के तराजू और बटखरे को जब्त किया गया. 34 प्रतिष्ठानों को नोटिस दिया गया और 7 प्रतिष्ठानों पर केस दर्ज किया गया है.
माप- तौल विभाग के कंट्रोलर ए एन राय ने बताया कि दीपावली के मौके पर ग्राहकों के साथ बड़े स्तर पर धोखाधड़ी होता है. विभाग की टीम सर्राफा, मिठाई और किराना दुकानों पर विशेष नजर रखे हुए है.
तीन दुकानों पर छापेमारी, 13 खाद्य सामग्रियों पर शक, लिये गये सैंपल, यहां करें शिकायत
पटना : दीपावली पर्व पर मिलावटी मिठाइयों के अंदेशा के चलते शहर के मिष्ठान भंडारों में ताबड़तोड़ छापेमारी जारी है. शहर के तीन बड़ी दुकानों में छापेमारी करते हुए कुल 13 नमूने लिये. इससे शहर के मिठाई दुकानदारों के बीच हड़कंप मच गया. खाद्य सुरक्षा अधिकारी अजय कुमार ने बताया कि टीम द्वारा दीपावली पर्व को लेकर छापेमारी कार्रवाई की जा रही हैं. रविवार को भी टीम ने कंकड़ाबाग के बीकानेर, हल्दीराम और न्यू डाकबंगला स्थित खोजी स्वीट्स दुकान में छ छापेमारी की गयी. मिलावटी के शह होने के बाद इन दुकानों से नमूने लेकर लेबोरेटरी के लिए भेज दिया गया.
यहां करें शिकायत
इस मामले का शिकायत आम उपभोक्ता माप-तौल विभाग के नियंत्रण कक्ष में 5 नवंबर से 15 नंबर तक सुबह 11 बजे से शाम 8 बजे तक दूरभाष संख्या 0612- 2295258 पर दर्ज करा सकते हैं. विभाग का दावा है कि सूचना मिलने के बाद त्वरित कार्रवाई सुनिश्चित की जायेगी.
सैंपल को लेबोरेटरी भेजा
जानकारी देते हुए अजय कुमार ने बताया कि बीकानेर में रेस्टोरेंट से पनीर, सफेद काजू और दो मिठाई खोआ व काजू बरफी के नमूने लिये गये. वहीं हल्दीराम में सात नमूने लिये गये. इसमें पनीर, दालचीनी, किसमीस, ड्राइ फुड्स और तीन तरह की मिठाई खोआ, काजू और ड्राइ फुट्स के नमूने लिये गये. वहीं खोजी स्टीट्स से खोआ मिठाई व काजू बरफी के नमूने लिये गये. अजय कुमार ने कहा कि सभी जांच के नमूने को लेबोरेटरी के लिए भेज दिया गया है. रविवार को भी लेबोरेटरी खुला हुआ था.
वहीं अगर सैंपल फेल हो जाता है तो सभी संबंधित दुकानदारों पर नियमानुसार कार्रवाई की जायेगी. अजय ने कहा कि अब दूध विक्रेताओं पर भी कड़ी नजर रखी जायेगी. इसके लिए उनको लाइसेंस व आधार कार्ड लेकर चलने के लिए चेतावनी जारी किया गया है. अगर दूध विक्रेता दोषी पाये गये तो कार्रवाई होगी.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें