बिहार विकास समीक्षा यात्रा : नीतीश ने कहा, कुरीतियों पर मिलकर करें प्रहार

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
छपरा (नगर) : िवकास की समीक्षा यात्रा सारण के एकमा पहुंचे सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि शराबबंदी के बाद दहेज व बाल विवाह को खत्म करने के लिए व्यापक अभियान चल रहा है. यदि हर नागरिक संकल्प कर ले तो बिहार विकसित राज्यों की श्रेणी में आ खड़ा होगा. बाल विवाह व दहेज प्रथा समाज की ऐसी कुरीतियां हैं, जो विकास की राह में रोड़ा हैं. ऐसे में हम सबको मिलकर राज्य की तरक्की के लिए इन कुरीतियों पर प्रहार करना चाहिए बढ़ा है.
मुख्यमंत्री गुरुवार को सारण के एकमा प्रखंड गंजपर में विकास समीक्षा यात्रा के दौरान जनसभा को संबोधित करते कर रहे थे.
उन्होंने मुख्य मंच से 416 करोड़ की लागत वाली 333 योजनाओं का शिलान्यास व उद्घाटन किया. जिन कार्यों का उद्घाटन हुआ, उनमें लोकनायक जयप्रकाश नारायण के गांव सिताब दियारा में 4.37 करोड़ से बना पुस्तकालय, 3.59 करोड़ से बना छपरा संग्रहालय, सदर अस्पताल में बना नाइट शेल्टर, आमी में नागरिक सुविधाओं का विकास प्रमुख हैं.
समीक्षा यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री ने एकमा नगर पंचायत के वार्ड संख्या 18 में सात निश्चय योजना के तहत हर घर नल का जल व गली-नाली निर्माण कार्यों का निरीक्षण किया. गंजपर तालाब को पक्षी बिहार के रूप में डेवलप कर जिले का प्रमुख टूरिस्ट स्पॉट बनाने को लेकर उन्होंने महत्वपूर्ण निर्देश दिये. चार वर्षों में पूरा होगा सात निश्चय का संकल्प
सीएम ने सामाजिक कुरीतियों को खत्म करने के साथ सात निश्चय के संकल्प को चार वर्षों में पूरा करने की अपनी प्रतिबद्धता दोहरायी. उन्होंने कहा कि हर घर नल का जल, हर घर शौचालय निर्माण और गली-नाली जैसी योजना के क्रियान्वयन पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है.
संसाधन के सदुपयोग से सब कुछ ठीक तरीके से किया जा सकता है. समीक्षा यात्रा के दौरान स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, जल संसाधन मंत्री राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह, पूर्व मंत्री गौतम सिंह, एकमा के विधायक मनोरंजन सिंह, जदयू के वरीय नेता शैलेंद्र प्रताप, पूर्व विधायक मंटू सिंह, लोजपा जिलाध्यक्ष अतुल कुमार सिंह, जदयू अध्यक्ष अल्ताफ आलम आदि ने मुख्यमंत्री का स्वागत किया.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें