27.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

श्रावणी मेला तक जमालपुर स्टेशन पर कांवरियों के लिए भोजनालय की होगी व्यवस्था: डीआरएम

पिछले 4 वर्षों से बंद पड़े जमालपुर स्टेशन के भोजनालय को श्रावणी मेला तक दोबारा चालू कर दिया जायेगा

प्रतिनिधि, जमालपुर. पिछले 4 वर्षों से बंद पड़े जमालपुर स्टेशन के भोजनालय को श्रावणी मेला तक दोबारा चालू कर दिया जायेगा. श्रावणी मेला को लेकर रेलवे ने विगत वर्ष की भांति इस वर्ष भी कांवरियों की सुविधा की योजना बनायी है. यह बातें बुधवार को मालदा रेल मंडल के डीआरएम विकास चौबे ने जमालपुर स्टेशन पर बतायी. वे यहां चल रहे अमृत भारत स्टेशन योजना के कार्यों और सेफ्टी मानकों का निरीक्षण करने पहुंचे थे. उन्होंने कहा कि जमालपुर में भोजनालय को दोबारा व्यवस्थित करने के लिए वह आईआरसीटीसी से संपर्क में है. कॉमर्शियल बिल्डिंग का काफी काम हो चुका है. जहां यात्री सुविधा को लेकर काफी व्यवस्था की जा रही है, जबकि जमालपुर में आरएमएस कार्यालय को स्टेशन का सेंट्रल कमांड इन कंट्रोल बनाया जा रहा है. जहां रेलवे के तमाम अनुभाग के प्रमुख बैठेंगे और आपस में समन्वय स्थापित कर यात्री सुविधा का विस्तार करेंगे. उन्होंने बताया कि अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत चलने वाला कार्य काफी चुनौती भरा है, क्योंकि रेलवे की सर्वोच्च प्राथमिकता यात्रियों को सुविधा प्रदान करना है. इसलिए रेल यात्रियों की सुविधा को ख्याल में रखते हुए यहां इस योजना के तहत काम किया जा रहा है. डीआरएम ने कहा कि पूर्व में निर्धारित लक्ष्य पर काम पूरा नहीं होने के कारण कार्यकारी एजेंसी पर हर सप्ताह जुर्माना किया जा रहा है. कार्यकारी एजेंसी पर काम को तेजी से पूरा करने का दबाव बना हुआ है. इस दौरान उन्होंने रेलवे ट्रैक और उपकरणों का निरीक्षण किया. सेफ्टी के पॉइंट ऑफ व्यू से उपकरणों के रखरखाव का जायजा लिया. उन्होंने कहा कि अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत यहां कार्य चल रहा है. फेसर्ड का काम आरंभ कर दिया गया है. फेसर्ड पर रंग रोगन का पहला लेयर पूरा हो चुका है. जमालपुर स्टेशन के फेसर्ड पर योग के आधा दर्जन मुद्राओं को दिखाया जायेगा. मुंगेर योग के मामले में पूरे देश में विख्यात है. जहां योग विश्वविद्यालय है. इसलिए जमालपुर और मुंगेर रेलवे स्टेशनों के फेसर्ड पर योग की मुद्राएं अंकित की जायेगी. डीआरएम ने चार-पांच दिनों में पार्किंग के सामने के एक्सटेंशन को पूरा करने और हरियाली की व्यवस्था का काम आरंभ होने की बात कही.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें