नहीं मिला बकाया पैसा कामकाज किया ठप

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

गया: दो महीने से रुपये का भुगतान नहीं किये जाने से नाराज निगम के दैनिक मजदूरों ने शुक्रवार की सुबह कई घंटों तक काम ठप रखा. कर्मचारी बिना पैसे भुगतान किये किसी भी सूरत में काम करने को तैयार नहीं थे.

कर्मचारी नेता अमृत प्रसाद ने बताया कि दैनिक मजदूरों को दो माह से वेतन का भुगतान नहीं हुआ है. उन्होंने बताया कि निगम के वरीय पदाधिकारियों से बातचीत के बाद एक महीने के भुगतान का ऑर्डर पास किया गया. इसके बाद ही कर्मचारी काम पर लौट गये. शुक्रवार को पूर्वाह्न् 11 बजे तक काम प्रभावित रहा.

‘एक गुट भ्रष्टाचार का पोषक’
निगम में व्याप्त भ्रष्टाचार का पोषक निगम का ही एक गुट है. यहीं कारण है कि कोई कार्रवाई नहीं हो पाती है. भ्रष्टाचार व लापरवाही के मामले में कोई कार्रवाई नहीं होना, इसका प्रमाण है. पार्षद लालजी प्रसाद व संतोष सिंह ने जारी प्रेस विज्ञप्ति में ये बातें कही हैं. पार्षदों ने कहा है कि भ्रष्टाचार का आलम यह है कि कर्मचारियों के वेतन भुगतान में भी अधिकारियों द्वारा कमीशन मांगा जाता है.

पार्षदों ने कहा कि शुक्रवार को कई घंटों तक कर्मचारियों द्वारा काम नहीं किये जाने का भी मुख्य कारण भ्रष्टाचार ही है. पार्षदों ने कहा कि कर्मचारियों की हड़ताल पर जाने की सूचना पर जब वह स्टेशन रोड स्थित निगम स्टोर पहुंचे, तो पता चला कि कर्मचारियों को भुगतान करने के लिए कमीशन की मांग की जा रही है. पार्षदों ने कार्यपालक अभियंता हरे कृष्ण प्रसाद को फिर से आड़े हाथों लेते हुए कहा कि अभियंता पर भ्रष्टाचार के कई मामले हैं, लेकिन उन पर न तो सही से जांच हो रही है और न ही कार्रवाई हो रही है. इसका भी एक मात्र कारण है कि निगम का एक भ्रष्ट गुट इस काम में बाधक बन रहा है. पार्षदों ने इस पूरे मामले की शिकायत जिले के वरीय पदाधिकारियों से करने की बात कही है.

    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें