1. home Home
  2. life and style
  3. karva chauth fast is incomplete without sargi know what to include in sargi thali sargi muhurta and more

सरगी के बिना अधूरा है करवा चौथ व्रत, जानें सरगी थाली में किन चीजों को शामिल करें, सरगी मुहूर्त और बहुत कुछ

करवा चौथ सबसे लोकप्रिय हिंदू त्योहारों में से एक है. यह अत्यंत महत्व रखता है क्योंकि ऐसा माना जाता है कि यह एक विवाहित जोड़े के बंधन को और ज्यादा मजबूत बनाता है. इस दिन सुहागिन महिलाएं दिन भर व्रत रखती हैं और रात में चांद देखकर व्रत खोलती हैं. इस साल करवा चौथ 24 अक्टूबर 2021 को मनाया जाएगा.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Sargi thali
Sargi thali
Instagram

मेंहदी, सोलह श्रृंगार और सरगी जैसे कुछ खास चीजों के बिना यह उत्सव अधूरा है. सरगी एक सदियों पुरानी रस्म है जो इस दिन विशेष रूप से उत्तर भारत में की जाती है. अगर आप नहीं जानती कि सरगी क्या है, तो यहां हम आपको सरगी खाने का महत्व बता रहे हैं पढें.

सरगी क्या है?

सरगी वह भोजन है जो विवाहित महिला को सूर्योदय से पहले खाने को मिलती है. इस पारंपरिक भोजन में अलग-अलग खाने की चीजें होती हैं जो एक महिला को अपनी सास से मिलती है. सरगी अपनी बहू को शुभ दिन पर आशीर्वाद देने का तरीका है ताकि वह पूरे दिन सफलतापूर्वक उपवास कर सकें. सरगी व्रत के दौरान महिला को पूरे दिन ऊर्जावान रहने में मदद भी करती है.

सरगी मुहूर्त

परंपरागत रूप से, यह सास अपनी बहू के लिए सरगी थाली तैयार करती है लेकिन यदि आप उसके साथ नहीं रहती हैं या वह नहीं हैं, तो आप इसे स्वयं तैयार कर सकती हैं. अगर घर में कोई और बड़ी महिला सदस्य है, तो वह आपके लिए थाली तैयार कर सकती हैं. सरगी हमेशा ब्रह्म मुहूर्त के दौरान खाई जाती है जो सूर्योदय से पहले होता है.

सरगी थाली में कौन-कौन सी चीजें होती हैं?

सरगी में खाने की स्वादिष्ट चीजें होती हैं जो महिला को दिन भर भरा रखने में मदद करती हैं. परंपरागत रूप से, थाली में ये चीजें शामिल होती हैं -

फल : करवा चौथ एक निर्जला व्रत है जिसका अर्थ है कि इस व्रत को करने वाली महिलाएं पूरे दिन पानी नहीं पी सकतीं, जब तक कि वे चंद्रमा को नहीं देख लेतीं. यही कारण है कि सरगी थाली में बहुत सारे ताजे फल होते हैं. फलों में पानी की मात्रा अधिक होती है. वे दिन भर महिला को भरा हुआ और हाइड्रेटेड रखते हैं.

मेवे : बादाम, पिस्ता, किशमिश, काजू जैसे सूखे मेवे पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं और शरीर को भरपूर ऊर्जा प्रदान करते हैं. सुबह इनका सेवन सरगी के रूप में करने से उपवास करने वाली महिला पूरे दिन ऊर्जावान रहती है.

स्वीट्स : परंपरागत रूप से, सरगी थाली में हमेशा एक या एक से अधिक मिठाइयां होती हैं. ये घर का बना या रेडीमेड हो सकता है. मिठाई ग्लूकोज और सुक्रोज से भरपूर होती हैं जो आपके शरीर को लंबे समय तक ऊर्जा प्रदान करती है.

जूस : अगर आप चाय के दीवाने हैं तो आप अपनी सरगी थाली में एक कप चाय भी ले सकते हैं. एक गिलास ताजे फल या सब्जियों के जूस का भी सेवन किया जा सकता है. यह आपको हाइड्रेट रखता है.

हल्के पके हुए भोजन : सरगी थाली में हल्के भोजन जैसे सब्जियों के साथ सेंवई या दूध के साथ मीठी सेंवई भी शामिल हो सकती है. हलवे का भी सेवन किया जा सकता है. ये आपको काफी समय तक भरा रखते हैं. इस त्योहार के दौरान आमतौर पर फेनियां और मट्ठी का आनंद लिया जाता है. बहुत सारे दूध और सूखे मेवों के साथ ताजा बनाई गई फेनियान भी ले सकती हैं.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें