1. home Hindi News
  2. world
  3. coronavirus china china drops gdp target for 2020 economic growth due to the coronavirus pandemic

कोविड-19: 30 साल में पहली बार चीन ने नहीं रखा GDP ग्रोथ के लिए कोई लक्ष्य, रक्षा बजट बढाया

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
चीन ने देश की जीडीपी के लिए 2020 में कोई लक्ष्य तय नहीं किया है.
चीन ने देश की जीडीपी के लिए 2020 में कोई लक्ष्य तय नहीं किया है.
Twitter

कोरोना वायरस महामारी ने दुनिया की बड़ी अर्थव्यवस्था वाले देशों को बहुत बड़ा झटका दिया है. अमेरिका, चीन और भारत जैसे देश अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए प्रयास में जुटे हैं. इसी बीच एक बड़ी खबर आयी है चीन से. 30 सालों में ऐसा पहली बार हुआ है जब चीन ने देश की जीडीपी के लिए 2020 में कोई लक्ष्य तय नहीं किया है. शुक्रवार को चीन की संसदीय बैठक में कई बड़े फैसले लिए गए. चीन ने अपना रक्षा बजट 6.6 फीसदी बढ़ाने का फैसला किया है.

अमेरिका से ट्रेड वॉर के कारण चीन की अर्थव्यवस्था को गहरा धक्का

नेशनल पीप्लस कांग्रेस की बैठक में अर्थव्यवस्था की वृद्धि का लक्ष्य तय किया जाता है, जिसके बाद चीनी प्रीमियर ली केचियांग ने शुक्रवार को कहा कि हमने इस साल आर्थिक वृद्धि के लिए कोई खास लक्ष्य नहीं रखा है. जानकारों का मानना है कि अमेरिका से ट्रेड वॉर और कोरोना वायरस के कारण चीन की अर्थव्यवस्था को गहरा धक्का लगा है. टीओआई के मुताबिक, ली ने कहा कि कोविड -19 महामारी और विश्व आर्थिक और व्यापार के माहौल में बड़ी अनिश्चितता के कारण विकास की भविष्यवाणी करना मुश्किल है.

बेरोजगारी ऐतिहासिक ऊंचाई पर

चीन की अर्थव्यवस्था में पहली तिमाही में 6.8 फीसदी की गिरावट आई, जबकि बेरोजगारी ऐतिहासिक ऊंचाई पर पहुंच गई. अर्थशास्त्रियों ने आधिकारिक जीडीपी के लिए अपने विकास के पूर्वानुमानों में कटौती की है. एक के अनुसार मार्च के अंत में बीजिंग स्थित चीन इंटरनेशनल कैपिटल कॉरपोरेशन (सीआईसीसी) ने अपने वास्तविक जीडीपी विकास अनुमान को 2.6 फीसदी कर दिया है, जो पहले 6.1 फीसदी था.

भारत में जीडीपी कोरोना वायरस से बुरी तरह प्रभावि

चीन ही नहीं भारत में जीडीपी कोरोना वायरस से बुरी तरह प्रभावित हुई है. आरबीआई ने आज कहा कि इस साल जीडीपी के निगेटिव रहने का अनुमान है. साऊथ चीन मॉर्निंग पोस्ट की रिपोर्ट के अनुसार चीन की सरकार ने पिछले साल 11 मिलियन की तुलना में 9 मिलियन नए शहरी रोजगार बनाने का लक्ष्य रखा है.

पिछले साल 5.5 प्रतिशत की तुलना में लगभग 6 प्रतिशत की शहरी बेरोजगारी दर है. रिपोर्ट के अनुसार बीजिंग ने पिछले साल 2.15 ट्रिलियन युआन की तुलना में 3.75 ट्रिलियन युआन (यूएस 527 बिलियन डॉलर) में एक स्थानीय विशेष बॉन्ड कोटा निर्धारित किया है. यह विशेष ट्रेजरी बांड में 1 ट्रिलियन युआन जारी करेगा, जो पिछले साल के 2.8 प्रतिशत की तुलना में 3.6 प्रतिशत के राजकोषीय घाटे के अनुपात को लक्षित करता है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें