एटीएम की सुरक्षा नहीं होने पर बैंकों के खिलाफ कार्रवाई, पुलिस ने सभी बैकों को दिये गाइड लाइन

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
हावड़ा : लिलुआ में दो एटीएम से 30 लाख रुपये चोरी होने के बाद सिटी पुलिस बैंकों के खिलाफ सख्ती बरतने जा रही है. एटीएम की सुरक्षा व्यवस्था पुख्ता नहीं रखने पर पुलिस बैकों के खिलाफ सुओ मोटो मामला करेगी. पुलिस की ओर से सभी बैंकों को निर्देश दिया गया है कि एटीएम के अंदर आैर बाहर (विपरीत दिशा में) सीसीटीवी कैमरा लगाना होगा. उन कैमरों के कनेक्शन स्थानीय थाने से जोड़ा जायेगा, ताकि एटीएम के अंदर आने वाले लोगों का फुटेज पुलिस के पास उपलब्ध हो सके.
साथ ही एटीएम पर एक अलार्म लगाना होगा. अलार्म की घंटी थाने में रखी जायेगी. मशीन के साथ छेड़छाड़ आैर तोड़फोड़ होते ही घंटी बजने लगेगी. बैकों को यह भी कहा गया है कि रात को एक सुरक्षा गार्ड एटीएम में रखा जाये. एटीएम में सीसीटीवी नहीं होने पर अगर कोई घटना घटती है, इसके लिए पूरी तरह से बैंक जिम्मेवार होगा आैर पुलिस उन बैकों के लापरवाही के खिलाफ कार्रवाई करेगी.
छह माह पहले भी हुई थी चोरी की कोशिश
लिलुआ के जिन दो एटीएम में गैस कटर की मदद से 30 लाख रुपये चोरों ने बड़ी आसानी से चुरा लिये, छह माह पहले चोरों ने इसी एटीएम में चोरी की कोशिश की थी, लेकिन तब वह वारदात को अंजाम नहीं दे पाये थे. उस समय भी एटीएम के अंदर लगे सीसीटीवी खराब था. बावजूद इसके बैंक ने सीसीटीवी ठीक नहीं कराया आैर इसी का फायदा चोरों ने उठा लिया.
पुलिस ने बताया कि गैस कटर से एटीएम तोड़ना बहुत अासान नहीं है. इसके लिए मास्क पहनना पड़ता है आैर 30 मिनट से अधिक एक गैस काम नहीं करता है आैर पूरे ऑपरेश्न को पूरा करने में आधे घंटे से अधिक का समय लगता है. सीसीटीवी ठीक होने से पुलिस के हाथों वारदात को अंजाम देनेवाले चोरों का चेहरा मिलता, जिससे जांच करना आसान होता, लेकिन बैंक की लापरवाही के कारण पुलिस का काम मुश्किल हो गया.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें