1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. jharkhand crime news attack on ranchi journalist cm hemant soren said the accused will not be spared srn

रांची के पत्रकार पर जानलेवा हमला,CM हेमंत ने कहा- आरोपी बख्शे नहीं जायेंगे, कई नेताओं ने भी की घटना की निंदा

रांची के पत्रकार बैजनाथ महतो पर जानलेवा हमला हुआ है, और अभी वह रिम्स में भर्ती हैं. जहां उसकी हालत गंभीर बताई जा रही है. राज्य के सीएम हेमंत सोरेन ने कहा है कि- आरोपी बख्शे नहीं जायेंगे. वहीं इस मामले की कई राजनीतिक दलों ने भी निंदा की है. राज्यपाल ने भी इसकी कड़े शब्दों में निंदा की है.

By Sameer Oraon
Updated Date
रांची के वीडियो जर्नलिस्ट बैजनाथ महतो पर जानलेवा हमला. गंभीर रूप से घायल.
रांची के वीडियो जर्नलिस्ट बैजनाथ महतो पर जानलेवा हमला. गंभीर रूप से घायल.
फाइल फोटो.

Jharkhand crime news, Ranchi News रांची : सदर थाना क्षेत्र की तिरिल बस्ती में शनिवार की रात समाचार प्लस के वीडियो जर्नलिस्ट बैजनाथ महतो को जानलेवा हमला कर गंभीर रूप से घायल कर दिया गया. फिलहाल रिम्स में डॉ सीबी सहाय की निगरानी में उनका इलाज चल रहा है. बैजनाथ को बेहोश हालत में तिरिल तालाब के पास रविवार की सुबह करीब तीन बजे लोगों ने पड़ा देखा, तो पुलिस को सूचना दी.

पीसीआर टीम ने उन्हें रिम्स में भरती कराया. लेकिन वहां कई घंटों तक उन्हें इलाज की सुविधा नहीं मिल सकी. जब अस्पताल प्रबंधन को उनके पत्रकार होने की जानकारी मिली, तो उनका तत्काल इलाज शुरू किया गया. इधर, मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने वीडियो जर्नलिस्ट पर शनिवार की रात हुए जानलेवा हमले की कड़ी निंदा की है और उनके जल्द स्वास्थ्य लाभ की कामना की है. उन्होंने कहा कि आरोपी किसी भी हाल में बख्शे नहीं जायेंगे.

उन्होंने हमलावर को जल्द गिरफ्तार करने का निर्देश दिया है. राज्यपाल रमेश बैस ने भी घटना की निंदा की है. जानकारी के अनुसार, बैजनाथ महतो का दो दिन पूर्व ही तिरिल बस्ती में एक युवक से झगड़ा हुआ था. जिसने उन पर फरसा से हमले का प्रयास किया था. जिसके बाद पुलिस ने विवाद को शांत करा दिया था. तब उन्होंने घटना की शिकायत सदर थाने में भी की थी. सांसद संजय सेठ ने घटना की निंदा करते हुए अपराधियों की जल्द गिरफ्तारी मांग की है़ वहीं मुख्यमंत्री के प्रेस सलाहकार अभिषेक प्रसाद ने घटना की निंदा करते हुए बैजनाथ के जल्द स्वस्थ होने की कामना की है.

देर रात दोस्तों से मिलकर लौटने की कही थी बात :

बैजनाथ महतो मूल रूप से टाटीसिलवे के रहनेवाले हैं, लेकिन वर्तमान में कोकर तिरिल बस्ती में किराये के मकान में रहते हैं. वह शनिवार की रात ड्यूटी पर थे. लेकिन काफी देर रात वह घर नहीं लौटे, तो उनके मकान मालिक ने रात के एक बजे उन्हें फोन किया. इस दौरान उन्होंने बताया था कि वह बरियातू में हैं और कुछ दोस्तों को मिलने के लिए बुलाया है. मिलने के बाद घर लौट जायेंगे. पुलिस को आशंका है कि घटना एक बजे रात से लेकर सुबह करीब तीन बजे के बीच की होगी.

गंभीर बनी हुई है़. बेहोशी की हालत में होने से वह कुछ भी बोल पाने की स्थिति में नहीं हैं. उनके सिर में चार स्थानों पर गंभीर जख्म के निशान हैं. इसके साथ ही गले में कटे का निशान है और दांत भी टूटकर गले में फंसा हुआ था. दांत को चिकित्सकों ने इलाज के दौरान गले से बाहर निकाला दिया है. बेहोशी की वजह से पुलिस के लिए भी यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि उनके साथ घटना क्या हुई थी. और उन पर किन लोगों ने हमला किया. जख्म देखने से आशंका जतायी गयी है कि उन पर तेजधार से हमला किया गया है.

इसलिए पुलिस ने मामले की गहराई से जांच शुरू कर दी है, ताकि आरोपियों के खिलाफ जानकारी एकत्र कर कार्रवाई की जा सके. पुलिस ने घटनास्थल का निरीक्षण किया है. इस दौरान पुलिस ने पाया कि जहां पर बैजनाथ महतो बेहोशी के हालत में पड़ा था, उसके पास दुकान है. दुकान में खून बिखरा हुआ था, लेकिन दुकान खोलने से पहले लोगों ने वहां गोबर से लीप दिया था.

Posted By : Sameer Oraon

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें