1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. ramgarh
  5. kartik purnima 2021 for the 1st time in rajrappa the grand ganga maha aarti a wonderful sight of the confluence of devotion and reverence smj

Kartik Purnima 2021: रजरप्पा में पहली बार हुआ भव्य गंगा महाआरती, भक्ति व श्रद्धा के संगम का दिखा अद्भुत नजारा

कार्तिक पूर्णिमा के मौके पर रामगढ़ के रजरप्पा स्थित मां छिन्नमस्तिके मंदिर परिसर में गंगा महाआरती का आयोजन हुआ. पहली बार इसका आयोजन हुआ. इस मौके पर मांडू व हजारीबाग सदर के विधायक समेत काफी संख्या में लोग शामिल हुए. मां छिन्नमस्तिका सेवा समिति के अध्यक्ष राजीव जायसवाल के नेतृत्व में किया गया.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
कार्तिक पूर्णिमा के मौके पर मां छिन्नमस्तिके मंदिर परिसर में गंगा महाआरती में शामिल हुए लोग.
कार्तिक पूर्णिमा के मौके पर मां छिन्नमस्तिके मंदिर परिसर में गंगा महाआरती में शामिल हुए लोग.
प्रभात खबर.

Kartik Purnima 2021(सुरेंद्र कुमार/शंकर पोद्दार, रजरप्पा, रामगढ़) : कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर 19 नवंबर, 2021 (शुक्रवार) की शाम को रामगढ़ के रजरप्पा मंदिर में पहली बार भव्य गंगा महाआरती का आयोजन किया गया. जिससे यहां आस्था, भक्ति व श्रद्धा के संगम का अद्भुत नजारा देखने को मिला. इस दौरान मंदिर के पुजारियों द्वारा सबसे पहले मंत्रोच्चारण के साथ भैरवी-दामोदर के संगम स्थल में विधिवत मां गंगे की पूजा-अर्चना की गयी. इसके बाद दीप जला कर गंगा महाआरती की गयी.

रजरप्पा के मां छिन्नमस्तिके मंदिर परिसर में गंगा महाआरती से पूर्व अनुष्ठान में काफी संख्या में शामिल हुए लोग.
रजरप्पा के मां छिन्नमस्तिके मंदिर परिसर में गंगा महाआरती से पूर्व अनुष्ठान में काफी संख्या में शामिल हुए लोग.
प्रभात खबर.

गंगा महाआरती का आयोजन छिन्नमस्तिका सेवा समिति के अध्यक्ष राजीव जायसवाल के नेतृत्व में किया गया. इस मौके पर मांडू विधायक जयप्रकाश भाई पटेल ने कहा कि मां छिन्नमस्तिके देवी की धरती पर पहली बार इस तरह का आयोजन किया गया है. भविष्य में इसे और भव्य रूप दिया जायेगा.

वहीं, हजारीबाग के सदर विधायक मनीष जायसवाल ने कहा कि गंगा सहित अन्य नदियों की पूजा-अर्चना करना हमारी संस्कृति रही है. इस तरह के कार्यक्रम कर अपनी संस्कृति व सभ्यता को जीवंत रखना है. समिति के अध्यक्ष राजीव जायसवाल ने कहा कि रजरप्पा स्थित मां छिन्नमस्तिके मंदिर में कार्तिक पूर्णिमा का दिन गंगा महाआरती की नयी परंपरा की शुरुआत की गयी है. अब हर साल इस परंपरा को भव्य तरीके से कायम रखा जायेगा.

कार्यक्रम में नंदू गुप्ता सपत्नी, राजीव जायसवाल सपत्नी, शशि पांडेय सपत्नी मुख्य यजमान बने. कार्यक्रम का संचालन रवि साहू ने की. मौके पर मंदिर के पुजारी अजय पंडा, शुभाशीष पंडा, सुबोध पंडा, लोकेश पंडा, नवीन पंडा, छोटू पंडा, राजेश पंडा के अलावे चंद्रशेखर चौधरी, ललित ओझा, संजय जायसवाल, दुर्गाचरण प्रसाद, डॉ उर्मिला सिंह, किशोर कुमार सिंह, बबली सिंह, कृष्ण कुमार सिंह, संजय कुमार, प्रियंका कुमारी, डॉ जितेंद्र, पुष्पा पांडेय, मधुसूदन पांडेय, सुशांत पांडेय सहित बड़ी संख्या में लोग शामिल थे.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें