स्कूल का चावल खा गये हाथी

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
रामगढ़मांडू से कनौदा पहुंचा झुंडएक दर्जन घरों को तोड़ाफसलों को बरबाद कियाहाथियों को भगाने के लिए टीम पहुंची फोटो फाइल संख्या 19 कुजू एच, आई : धान के खेत में विचरण करते हाथी, 19 कुजू जे: हाथियों द्वारा तोड़ा गया स्कूल का खिड़की, 19 कुजू के : टूटी चहारदीवारी, 19 कुजू एल: ग्रामीणों की भीड़ बलसगरा (रामगढ़)मांडू में तबाही मचाने के बाद 22 जंगली हाथियों का झुंड मंगलवार तड़के तीन बजे रबोध के समीप कनौदा गांव पहुंच गया. इससे गांव में दहशत फैल गयी. हाथियों ने डाड़ी प्रखंड की जिला परिषद सदस्य निर्मला मुर्मू के घर की खिड़की व चहारदीवारी को तोड़ दिया. उनका पांच वर्षीय भगीना सच्चिादानंद हेंब्रोम बाल- बाल बचा. हाथियों के झुंड ने फसलों को नष्ट कर दिया. नवप्राथमिक विद्यालय, कनौदा के स्टोर रूम की खिड़की को तोड़ कर चावल खा गये. कनौदा के ही बलू मांझी, बाबूलाल मांझी व रामकिशुन महतो की चहारदीवारी को तोड़ दिया. इसके बाद हाथियों का झुंड रबोध स्थित मोरसरिया गांव पहुंचा. यहां जतरू महतो, चिलर महतो, चुन्नीलाल महतो, हरि महतो, रामेश्वर महतो व औवलाश पाहन की चहारदीवारी को तोड़ कर फसलों को नष्ट कर दिया. इस बीच मांडू के फॉरेस्टर कमलेश कुमार सिंह व कुजू के फॉरेस्टर प्रभात कुमार सिन्हा ने बताया कि जंगली हाथियों को भगाने के लिए टीम आ गयी है. इन हाथियों को रात में भगाया जायेगा. हाथियों का झुंड पहली बार पहुंचा ग्रामीणों के मुताबिक, इस क्षेत्र में जंगली हाथियों का झुंड पहली बार पहुंचा है. भीड़ देख हाथियों ने लोगों को कई बार दौड़ाया. इससे अफरा-तफरी मच गयी. हाथियों के भय से लोगों में दहशत है. इस बीच रबोध पंचायत के मुखिया अघनु मांझी व आजसू जिला सचिव हजारीबाग कपिलदेव महतो ने किसानों को हुए नुकसान के लिए मुआवजा राशि देने की मांग की है.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें