1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. chhath puja 2020 4 day mahaparva chhath starts with nahay khay in gumla cleanliness of ghats smj

Chhath Puja 2020 : गुमला में नहाय खाय के साथ शुरू हुआ 4 दिवसीय महापर्व छठ, घाटाें की हो रही साफ-सफाई

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : कद्दू-भात के साथ 4 दिवसीय महापर्व छठ की हुई शुरुआत. छठी मइया का आराधना करतीं छठव्रती.
Jharkhand news : कद्दू-भात के साथ 4 दिवसीय महापर्व छठ की हुई शुरुआत. छठी मइया का आराधना करतीं छठव्रती.
प्रभात खबर.

Chhath Puja 2020 : गुमला : लाेकआस्था का महापर्व छठ की शुरुआत नहाय खाय के साथ बुधवार (18 नवंबर, 2020) को शुरू हो गयी. छठ व्रतियों ने शुद्धता एवं पवित्रता के साथ कद्दू- भात का प्रसाद बनाकर ग्रहण कर अनुष्ठान प्रारंभ किया. 4 दिवसीय इस महापर्व को लेकर लोगों में काफी उत्साह देखा जा रहा है. इधर, मंगलवार शाम को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने नदी, तालाब, कुंड आदि स्थलों पर कुछ शर्तों के साथ छठ पूजा की छूट दी. छूट मिलते ही नदी-तालाबों के घाटाें की साफ-सफाई भी होने लगी है.

बसिया प्रखंड में छठ पर्व का उल्लास

गुमला जिला अंतर्गत बसिया प्रखंड में छठ व्रतियों ने नहाय खाय के साथ महापर्व की शुरुआत की. गुरुवार (19 नवंबर, 2020) को खरना (खीर भोजन ), शुक्रवार (20 नवंबर, 2020) को संध्या अर्घ एवं शनिवार (21 नवंबर, 2020) को उदीयमान सूर्य को अर्घ दिया जायेगा.

सरकार द्वारा छठ घाट में अर्घ देने की अनुमति देने के बाद लोगों ने सरकार के निर्णय का स्वागत किया है. मौके पर दुर्गा पूजा समिति के अध्यक्ष पंकज सिंह ने कहा कि हेमंत सरकार द्वारा नदी और तालाबों में अर्घ देने की अनुमति स्वागत योग्य है. इसके बाद छठ घाटों की साफ- सफाई शुरू हो गयी है. वहीं, छठ व्रतियों ने पूजन सामग्री की खरीदारी शुरू कर दी है. साथ ही पूरे प्रखंड में छठ गीतों से माहौल भक्तिमय बनने लगा है. वहीं, छठ पूजा को लेकर अपनी आस्था प्रकट करते हुए समाजसेवी विनय कुमार चौधरी ने बसिया समेत आसपास के क्षेत्र में सभी छठव्रती के घर प्रसाद के लिए गन्ना का निःशुल्क वितरण किया.

भरनो में महापर्व की गूंज

दूसरी ओर, भरनाे प्रखंड में भी महापर्व छठ की गूंज है. कद्दू-भात के साथ हुई शुरू हुआ महापर्व शनिवार को भगवान सूर्य को अर्घ देने के साथ ही संपन्न होगा. हेमंत सरकार द्वारा नदी-तालाब घाटों में कुछ शर्तों के साथ छठ पूजा करने की अनुमति देने पर छठ व्रतियों समेत सभी लोगों में काफी उत्साह देखने को मिल रहा है. कई छठ व्रतियों का कहना है कि पूर्व में सरकार के आदेश से अर्घ को लेकर परेशानी हो गयी थी, लेकिन समय रहते हेमंत सरकार ने हम छठ व्रतियों की परेशानी को समझा और कुछ शर्तों के साथ नदी-तालाब के घाटों पर छठ मनाने की छूट देने की अनुमति दिये.

पालकोट के विभिन्न घाटों की साफ-सफाई

पालकोट प्रखंड में भी छठ पर्व को लेकर हेमंत सरकार की नयी गाइडलाइन को लेकर खुशी का माहौल देखा जा रहा है. प्रखंड के पोजेंगा, बघिमा, टेंगरिया आदि स्थानों के लोगों के द्वारा छट घाट की साफ- सफाई करने में लग गये हैं. पालकोट के थाना तालाब में छठ घाट की साफ- सफाई में सांसद प्रतिनिधि राम अवध साहु, जिप सदस्य मनोज नायक, मुखिया गौतम उरांव, कुमूद षाड़ंगी, बंसत गुप्ता, मनोज कुमार, बिराज नायक, राधेश्याम साहु, दयानंद केसरी, बंशीधर गुप्ता, गोपाल केसरी, संजय नागरची के साथ अन्य लोग जुटे रहें.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें