भाभी को नहीं था बच्चा, इसलिए किया अपहरण

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

रांची : बुंडू थाना क्षेत्र के सिरिकडीह गांव निवासी झूलन स्वांसी के छह माह के पुत्र हरीश उर्फ अंकित स्वांसी के अपहरण के आरोप में एक महिला सहित चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है. गिरफ्तार आरोपियों में भालू सोनार, मोतीलाल महतो, लखींद्र महतो और पदोवती देवी के नाम शामिल हैं. पुलिस ने आरोपियों के पास बच्चे को सुरक्षित बरामद कर उसके माता-पिता को सौंप दिया है.

बच्चे के अपहरण का सौदा पदोवती देवी ने आरोपियों के साथ 10 हजार रुपये में तय किया था. घटना का मास्टरमाइंड दुखू महतो फरार है. वह नक्सल केस में पूर्व में जेल भी जा चुका है. उसकी तलाश में पुलिस छापेमारी कर रही है. यह जानकारी शनिवार को संवाददाता सम्मेलन में ग्रामीण एसपी ऋषभ कुमार झा ने दी.
पूछताछ में भालू सोनार ने घटना में अपनी संलिप्तता स्वीकारते हुए बताया कि घटना के कुछ दिन पूर्व दुखू महतो ने उसे बताया था कि सरायकेला-खरसावां जिला के कांडरा थाना क्षेत्र में उसकी भाभी का कोई बच्चा नहीं है.
इसलिए उसने भालू सोनार के साथ मिल कर बच्चे के अपहरण की योजना बनायी. ग्रामीण एसपी ने बताया कि 25 अक्तूबर को सूचना मिली कि झूलन स्वांसी के छह माह के पुत्र का अपहरण 24 अक्तूबर की रात 11.00 से 11.30 बजे के बीच कर लिया गया. छह से आठ हथियारबंद लोगों ने मिल कर घटना को अंजाम दिया.
इसके बाद एसएसपी के निर्देश पर ग्रामीण एसपी के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया. जांच के दौरान पुलिस को जानकारी मिली कि दुखू महतो और भालू सोनार झूलन स्वांसी के घर की रेकी करने के साथ उसके घर भी जा चुके हैं. संदेह के आधार पर सबसे पहले भालू सोनार को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया.
झूलन स्वांसी को बच्चे के बारे में पहले से जानकारी थी.घटना को अंजाम देने के लिए दोनों ने एक साथ झूलन स्वांसी के घर की रेकी की. इसके बाद घटना को अंजाम दिया.
अपहरण के बाद वे अंकित स्वांसी (बच्चा) को लेकर जोजोहातू स्थित लखींद्र महतो के घर पहुंचे और वहां थोड़ी देर रुकने के बाद कांडरा चले गये. भालू सोनार की निशानदेही पर कांडरा से बच्चा को बरामद किया गया. पुलिस के पहुंचने से पहले महिला बच्चे को लेकर निकल चुकी थी, लेकिन बीच रास्ते से ही उसे गिरफ्तार कर लिया गया.
बच्चे के अपहरण के लिए सिर्फ 10 हजार रुपये में तय हुआ था सौदा
बच्चे के माता-पिता ने पुलिस को दी बधाई
बच्चे को सुरक्षित बरामद करने के बाद उसके माता-पिता ने ग्रामीण एसपी से मिल कर उन्हें बधाई दी. पुलिस के कार्यों की सराहना की.
गिरफ्तार आरोपियों के नाम और पता
भालू सोनार, ग्राम पपरीदा, सोनाहातू
मोतीलाल महतो
लखींद्र महतो, जोजोहातू, अड़की
पदोवती देवी, सोसोडीह, सोनाहातू
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें