1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. bihar the entire state including patna has not had much heat this year

बिहार : इस साल पटना सहित पूरे राज्य में नहीं पड़ रही है ज्यादा गर्मी

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
इस साल पटना सहित पूरे राज्य में नहीं पड़ा रही है ज्यादा गर्मी
इस साल पटना सहित पूरे राज्य में नहीं पड़ा रही है ज्यादा गर्मी
ट्वीटर

पटना : इस साल उम्मीद थी कि प्रदेश में पिछले साल की तरह इस साल भी रिकार्ड गर्मी पड़ेगी. पर अभी तक जेठ की दोपहरिया में पूरे बिहार में एक भी दिन लू नहीं चली है. 2019 के दौरान अप्रैल और मई माह में पटना में 10 दिन, गया में तीन दिन और भागलपुर में 2 दिन लू चली थी. तुलनात्मक रूप में देखा जाये तो प्रदेश में मई का महीना पिछले साल की तुलना में रिकार्ड कम तपा है़ पिछले साल की तुलना में पूरा प्रदेश मई माह में उच्चतम तापमान के औसत से चार डिग्री कम रहा.

जहां तक राजधानी पटना का सवाल है, पिछले साल पटना शहर का उच्चतम तापमान 42.5 डिग्री और इस साल केवल 35 डिग्री रहा है़ आइएमडी के आंकड़ों के मुताबिक पिछले साल पटना में मई माह में रिकार्ड 17 दिन 40 डिग्री से अधिक तापमान रहा था़ इस महीने पटना में केवल एक दिन 17 मई को40 डिग्री सेल्सियस तापमान गया है़ पिछले साल की तुलना में इस साल मई माह में अधिकतम 11 डिग्री सेल्सियस तक कम तापमान रहा है़ अधिकतर दिन पटना का तापमान सामान्य से कम ही रहा है़ मौसम की यह उठापटक आम आदमी की मनादेशा से लेकर मानसून की चाल तक प्रभावित कर सकता है़

पटना का तापमान

तारीख- 2019- 2020

23 मई- 41- 35.6

22 मई-43-35.6

21 मई- 41-32.4

20 मई-41.4- 33.8

19 मई- 43-34.6

18 मई- 43-39

17 मई-40.6- 40

16 मई- 39-39

15 मई- 39.4- 36.2

14 मई- 38-34.4

13 मई- 43-37.8

12 मई-44-33.8

11 मई- 43.2-32.6

10 मई- 43.4- 34.6

9 मई- 43-34.4

8 मई- 43-37.5

7 मई-42-33.6

6मई- 43-34.4

5 मई- 33.6-35.4

4 मई- 35-35.4

3 मई- 39-33.4

2 मई--40- 30.2

1 मई- 40-31.2

---------

स्रोत- यह सभी आंकड़े भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के हैं.

पिछले साल पटना में मई में इन तारीखों को चली थी लू--7,8,9,10,11,12,18,28 मई

2019 में पटना में 28 और 29 अप्रैल को भी लू चली थी़

पिछले साल गया में चली लू की तारीखें-- 9,10 और 29 मई

भागलपुर में लू चलने की तारीख- 20 मई

-पिछले साल मई माह में फोनी तूफान ने पटना और बिहार के मौसम को प्रभावित किया था, इससाल अम्फान ने प्रभावित किया है.

- अप्रैल मई माह कम तपने से संभव है कि इस साल बिहार में मानसूनी बारिश में कमी आये या मानसून देरी से आये.

विशेषज्ञों की नजर में इस साल कम तपने की वजह- पिछले साल की तुलना में इस साल पश्चिमी विक्षोभ औसतन 6-7 दिन में दस्तक दे रहा था. जिसकी वजह से लगातार बारिश और बादल आते जाते रहे.

- लॉक डाउन की वजह स्थानीय स्तर पर बादल भी बने, जिसकी वजह से कुछ बारिश हुई़

आइएमडी पटना के निदेशक विवेक सिन्हा ने बताया कि यह सच है कि इस साल सामान्य से कुछ कम तापमान रहा है़ लू बिल्कुल नहीं चली है़ इसकी कई वजहें होती हैं. इनमें पिश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता खास है़ हालांकि इसका कोई सीधा असर मानसून की आगमन में नहीं पड़ना चाहिए़

27 मई से फिर बारिश के आसार

आइएमडी पटना के मुताबिक 26 मई से 27 मइ को फिर मौसमी दशाएं बदलेंगी. इसके चलते बादल बन रहे हैं. पुरवैया हवा भी बहेगी. हल्की बारिश और आंधी आने की भी आशंका है. जानकारी के मुताबिक अगले दो-तीन दिन तापमान में इजाफा होगा. हालांकि लू की स्थिति नहीं बनने जा रही है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें