1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. bihar flood weather update villagers started breaking houses erosion on banks of gandak river avh

Bihar News: बारिश थमने के बाद भी लोगों पर आफत जारी, गंडक किनारे कटाव से डरकर घर तोड़ने लगे ग्रामीण

जानकारी के मुताबिक कटाव के इस दौर में जिले के तीन दर्जन से अधिक लोगों के घर नदी में विलीन हो चुके हैं. 80 एकड़ से अधिक गन्ना की फसल का नामोनिशान नहीं है. ऐसे में नदी के तांडव से बचने के लिए लोग अपना घर तोड़ रहा है.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
बारिश थमने के बाद भी लोगों पर आफत जारी
बारिश थमने के बाद भी लोगों पर आफत जारी
Twitter

बिहार में गंडक नदी का डिस्चार्ज घटने के साथ ही कटाव बेकाबू होता जा रहा है. कटाव को रोक पाने में विभाग लाचार बना हुआ है. वाल्मीकिनगर बराज से नदी में डिस्चार्ज गुरुवार 95200 क्यूसेक दर्ज किया गया. जबकि खतरें के निशान से नदी कालामटिहनिया में अभी 12 सेमी ऊपर है. वहीं पतहरा में 12 सेमी नीचे जा चुकी है. विगत एक सप्ताह से नदी की धारा कटाव कर रही है.

जानकारी के मुताबिक कटाव के इस दौर में जिले के तीन दर्जन से अधिक लोगों के घर नदी में विलीन हो चुके हैं. 80 एकड़ से अधिक गन्ना की फसल का नामोनिशान नहीं है. ऐसे में नदी के तांडव से बचने के लिए कोई अपना घर तोड़ रहा है तो कोई असमय गन्ने की फसल को काट रहा है.

मांझा प्रखंड के निमुईंयां पंचायत के सखवां टोक, गछु टोला, बुझी रावत के टोला, माया तिवारी के टोला जहां वार्ड संख्या 1,2,7 एवं 8 के लोग अपने पक्का बिल्डिंग, पलानी, झोपड़ी तोड़कर जोने को विवश हैं. बता दें कि बारिश नहीं होने के बाद भी गंडक के कटाव से लोग परेशान हैं.

वहीं गंडक में कटाव को देखते हुए मंत्री नितिन नवीन गोपालगंज में निरीक्षण करने पहुंचे. मंत्री नितिन नवीन ने ट्वीट कर जानकारी देते हुए कहा कि गोपालगंज प्रवास के दौरान आज सत्तर घाट में प्राकृतिक आपदा बाढ़ की वजह से सड़क के 865मीटर के कटाव को भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष मिथिलेश तिवारी, गोपालगंज के जिलाधिकारी एवं पथ निर्माण विभाग के वरीय अधिकारीयों के साथ निरीक्षण कर यथाशीघ्र प्राक्कलन तैयार करने का आदेश दिया.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें