1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. bihar corona vaccine first dose to igims hospital cleaning staff and second dose to a ambulance driver know what they says about coronavirus vaccine first dose of corona ka tika bihar updates skt

Corona Vaccine: बिहार में पहला दो वैक्सीन सफाईकर्मी और एंबुलेंस चालक को, घरवालों को हुई घबराहट तो दिया यह संदेश...

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
 बिहार में पहला दो वैक्सीन सफाईकर्मी और एंबुलेंस चालक को
बिहार में पहला दो वैक्सीन सफाईकर्मी और एंबुलेंस चालक को
Google

बिहार में आज कोरोना वैक्सीन(Corona Vaccine) टीकाकरण का शुभारंभ होने जा रहा है. पटना के एम्स व आइजीआइएमएस समेत राज्य के 30 केंद्रों पर कोरोना वैक्सीनेशन की शुरुआत आज हो जाएगी. राज्य के 30 हजार रजिस्टर्ड स्वास्थ्य कर्मियों को आज टीका( Corona ka Tika) पड़ेगा. वहीं सीएम नीतीश कुमार की उपस्थिति में राज्य का पहला टीका आइजीआइएमएस के सफाई कर्मचारी रामबाबू को पड़ेगा. इसके बाद दूसरा वैक्सीन इसी अस्पताल के एंबुलेंस चालक अमित कुमार को पड़ेगा.

बिहार में पहला टीका IGIMS अस्पताल के सफाईकर्मी रामबाबू को देने का फैसला किया गया. इस बात की जानकारी जब उन्हें हुई तो वो चौंक गए. उन्होंने कहा कि मैं आइजीआइएमएस में सफाई कर्मचारी हूं. मुझे लगता है कि सामान्य ड्यूटी नहीं, बल्कि सुबह से दोपहर के बीच कई लोगों के काम आता हूं. उन्होंने कहा कि मैं ड्यूटी भी करता हूं और साथ ही लोगों की दुआएं भी मिलती हैं. उन्होंने इसे संस्थान का खास बात बताया.

रामबाबू ने कहा कि सबसे पहले कोरोना वैक्सीन लगाने की बात मुझे पता चली, तो मैंने तुरंत हां कर दी. लेकिन घर परिवार से लेकर सभी लोग कहने लगे कि तुम ही क्यों पहले लगवाओगे? जिसपर मैंने कहा यूं तो सभी जी रहे हैं, लेकिन उद्देश्य के लिए कुछ करने को मिल रहा है, तो मैं क्यों न करूं. इसमें कोई रिस्क नहीं है. टीका लगवाने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात करने का मौका मिलेगा, यह मेरा सौभाग्य होगा. देश के वैज्ञानिकों पर मुझे पूरा विश्वास है.

वहीं रामबाबू को पहला टीका पड़ने के बाद दूसरा टीका इसी अस्पताल के एंबुलेंस चालक अमित कुमार को पड़ेगा. उन्हें जब इस बात की जानकारी हुइ तो वो बेहद उत्साहित दिखे. उन्होंने कहा कि जब हम सभी को वैक्सीन लगानी है, तो हमें खुद उदाहरण होना चाहिए. अमित कहते हैं कि कोरोना संक्रमण के पूरे समय मैं ड्यूटी पर रहा. इस दौरान खतरा सामने दिख रहा था, लेकिन ड्यूटी करता रहा. इसके बाद मुझे जब मालूम हुआ कि वैक्सीन लगवानी है, तो मैं तैयार हो गया.

अमित कहते हैं कि उन्हें विश्वास नहीं हो रहा कि उन्हें पीएम मोदी से बात करने का मौका मिलेगा. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी मेरे प्रेरणास्रोत हैं. वैक्सीन लगवाने से डरें नहीं, अपने वैज्ञानिकों और डॉक्टरों पर भरोसा रखें.

Posted By :Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें