पटना : कॉलेजों ने छात्रों के भविष्य के साथ किया खिलवाड़, जांच की उठी मांग

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
बीएड में छात्रों के फर्जी रजिस्ट्रेशन का मामला
पटना : पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय बीएड नामांकन में छात्र-छात्राओं पर लाठीचार्ज की गयी. छात्रों की गलती यही है कि कॉलेजों ने उन्हें आश्वासन दिया और वे उनकी झांसे में आ गये.
लेकिन साथ-साथ छात्रों का यह भी कहना है कि विवि के नाक के नीचे जब 700 छात्रों का नामांकन हो रहा था, तो विवि कहां था. इसकी जांच होनी चाहिए. वहीं उनके कैरियर का भी ध्यान रखना चाहिए, क्योंकि इसमें विवि की भी गलती है. विवि द्वारा रजिस्ट्रेशन बिना जांच-पड़ताल के कैसे हुई? हालांकि विवि जांच की बात कह रहा है और दोषी कॉलेजों पर जांच के बाद कार्रवाई करने की बात कह रहा है. पीड़ित छात्रों ने बताया कि काॅलेजों द्वारा उन्हें बरगलाया गया और उन्होंने नामांकन ले लिया.
रजिस्ट्रेशन पीपीयू द्वारा ले लिया गया और कॉलेजों ने आश्वस्त किया कि अब उनकी परीक्षा हो जायेगी. लेकिन बाद में परीक्षा लेने से मना कर दिया गया. इस संबंध में छात्रों का मामला राजभवन गया है. विवि के अनुसार चूंकि ऑनलाइन नामांकन हुआ था, उस दौरान चेक नहीं किया जा सका. बाद में जब नालंदा खुला विश्वविद्यालय द्वारा जो 713 छात्रों की सूची भेजी गयी, उससे जब नामांकित छात्रों का मिलान नहीं हुआ, तो कार्रवाई की गयी.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें