जब नहीं बिकेगा पान का पत्ता, तब निकलेगा तेल

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

बिहारशरीफ : अब पान उत्पादक किसानों को औने-पौने दाम पर पान का पत्ता नहीं बेचना पड़ेगा. जब पान के पत्ते का अधिक उत्पादन होता है, तो पान के पत्ते की कीमत काफी कम हो जाती है. उस वक्त पान के पत्ते का खरीदार नहीं मिल पाते हैं.

राज्य सरकार ने पान उत्पादक किसानों को सरप्लस उत्पादन में अधिक लाभ दिलाने के उद्देश्य से पान अनुसंधान केंद्र इस्लामपुर में पान के पत्ते से तेल निकालने की यूनिट स्थापित करने की स्वीकृति प्रदान की है. इसके लिये पान अनुसंधान केंद्र को 10 लाख रुपये की राशि भी उपलब्ध करायी जा रही है. इस वित्तीय वर्ष में यह यूनिट स्थापित हो जायेगी. पान के पत्ते से तेल निकालने के लिये क्लेवेंजर अपरेटर का इस्तेमाल किया जाता है.
पान से आसवन विधि से तेल निकाला जायेगा. पान अनुसंधान केंद्र में दो स्केल पर पान के पत्ते से तेल निकाला जायेगा-लार्ज स्केल पर एवं स्मॉल स्केल पर. पान उत्पादक किसानों के पान के पत्ते से तेल स्मॉल स्केल पर निकाला जायेगा, जबकि किसी कंपनी के लिए लार्ज स्केल पर तेल निकाला जायेगा. पान के पत्ते से तेल निकालने की मशीन सिमेक द्वारा तैयार की गयी है.
तेल निकलवाने को किसान आयेंगे केंद्र
जिन किसानों को अपने पान के पत्ते से तेल निकलवाना होगा, वैसे किसान अपना पान का पत्ता पान अनुसंधान केंद्र, इस्लामपुर में लायेंगे. केंद्र द्वारा पान के पत्ते से तेल निकालकर किसानों को दे दिया जायेगा. किसानों को तेल पेराई के रूप निर्धारित दर केंद्र को देना होगा. पान के पत्ते से तेल निकालने का दर क्या हो, इसके लिए केंद्र द्वारा बिहार कृषि विवि सबौर द्वारा निर्धारित किया जायेगा.
पान के तेल का इनमें होता है इस्तेमाल
पान के पत्ते से निकले तेल का इस्तेमाल कई चीजों में होता है. टूथपेस्ट निर्माण, स्कीन रोग, माउथ फ्रेशनर, डिंडरॉलर (सेंट) एंटीसेप्टिक लोशन, कॉस्मेटिक प्रोडक्शन, हर्बल मेडिसिन, आइसक्रीम के फ्लेवर, चॉकलेट फ्लेवर इत्यादि में इसका उपयोग होता है.
पान के तेल की कीमत अधिक
पान पत्ते के तेल की कीमत काफी अधिक होती है. एक अनुमान के अनुसार 100 एमएल पान के पत्ते के तेल की कीमत करीब पांच हजार रुपये के करीब है. इस प्रकार एक किलो तेल की कीमत 50 हजार रुपये के करीब है. इस तेल का कई चीजों में इस्तेमाल होता है.
क्या कहते हैं अधिकारी
पान उत्पादक किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार के लिए राज्य सरकार ने पान अनुसंधान केंद्र, इस्लामपुर में पान के पत्ते से तेल निकालने की यूनिट स्थापित करने की स्वीकृति दी है. अधिक उत्पादन होने पर किसान पान के पत्ते से तेल निकालकर ऊंचे दामों में बेच सकेंगे.
डॉ एसएन दास, केंद्र प्रभारी, पान अनुसंधान केंद्र, इस्लामपुर
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें