28.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

गर्मी एवं लू से बचाव को लेकर अधिकारियों को डीएम ने दिये कई निर्देश

आपदा प्रबंधन विभाग के दिशा-निर्देश का पालन करने के लिए जिले के अधिकारियों को कई आवश्यक निर्देश दिये हैं

दरभंगा. डीएम राजीव रौशन ने अग्निकांड एवं भीषण गर्मी तथा लू से बचाव को लेकर आपदा प्रबंधन विभाग के दिशा-निर्देश का पालन करने के लिए जिले के अधिकारियों को कई आवश्यक निर्देश दिए हैं. कहा है कि पीड़ितों को 24 घंटे के अंदर पॉलीथिन शीट्स, नकद अनुदान, वस्त्र एवं बर्तन उपलब्ध करावें. नगर आयुक्त शहरी क्षेत्रों तथा नगर पंचायतों में सार्वजनिक स्थानों पर प्याऊ की व्यवस्था, आवश्यकतानुसार चापाकलों की मरम्मती, नगरीय क्षेत्र में अवस्थित आश्रय स्थलों में पेयजल तथा स्लम निवासियों के लिए आकस्मिक दवाओं की व्यवस्था के साथ ही गर्म हवाओं एवं लू से बचाव तथा अग्निकांड की घटना के निदान के लिये आम जनता के बीच प्रचार-प्रसार कराने को कहा है. लू हीट वेव कीवईलाज की विशेष व्यवस्था, आइसोलेशन, एसी वार्ड, ओआरएस पैकेट, एवं जीवन रक्षक दवा सभी चिकित्सालयों में उपलब्ध कराने, मरीजों, मृतकों से संबंधित प्रतिवेदन जिला आपदा को उपलब्ध कराने, अस्पतालों, मेडिकल कॉलेजों में स्वच्छ पेयजल, प्याऊ के साथ ही चलंत चिकित्सालय एवं वाहन की व्यवस्था के साथ हेल्प लाइन, कंट्रोल रूम की व्यवस्था करने का निर्देश दिया है. लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग को खराब चापाकलों की युद्ध स्तर पर मरम्मत, संकट ग्रस्त क्षेत्रों में टैंकरों के माध्यम से पेयजल की आपूर्त्ति, भू-गर्भ जल स्तर की लगातार समीक्षा एवं निगरानी करने के साथ-साथ चापाकल मरम्मति दल तथा कंट्रोल रूम का प्रचार-प्रसार करने को कहा है. नागरिकों से कहा गया है अनावश्यक धूप में नहीं निकले. बाहर निकालने के पूर्व काफी मात्रा में पेयजल प्राप्त कर लें. पानी हमेशा अपने साथ रखें. पशु-पक्षियों के लिये सरकारी ट्यूबवेल के समीप पानी की व्यवस्था, सुविधायुक्त स्थानों पर गढ़ा खुदवाकर पानी इकट्ठा करवाने एवं बीमार पशुओं के लिए चिकित्सा दल की व्यवस्था करने का निर्देश जिला पशुपालन पदाधिकारी को दिया गया है. पंचायतों में सुबह बजे तक खाना बना लेने के बाद आग को अच्छी तरह बुझा देने को कहा है. प्याऊ की व्यवस्था एवं अग्निकांड तथा लू से बचाव के लिए कार्ययोजना बनाकर जल संरक्षण पर कार्य करने को निर्देश जिला पंचायती राज पदाधिकारी को दिया है. अग्निशमन विभाग को एलर्ट मोड पर रहने का निर्देश दिया है. शॉर्ट-सर्किट की घटना को रोकने के लिए विद्युत विभाग को बिजली के तारों को दुरूस्त करवाने को कहा है. जिला परिवहन पदाधिकारी को बस स्टैंड, परिवहन गाड़ियों में ओआरएस, पेयजल तथा प्राथमिक उपचार की व्यवस्था रखने का निर्देश दिया है. सिविल सर्जन से कहा है कि लू लगे व्यक्तियों को उपचार के लिए सर्वोच्च प्राथमिकता दें. सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, अनुमंडल अस्पताल को 24 घंटे बेहतर ढंग से सुसंचालित करने का निर्देश दिया है.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें