1. home Hindi News
  2. national
  3. there is no shortage of remdesivir in the country it will be used only in hospitals there will be no sale in shops central government aml

Corona Update: देश में रेमडेसिविर दवा की कोई कमी नहीं, केवल अस्पतालों में होगा इस्तेमाल, दुकानों में नहीं होगी बिक्री : केंद्र सरकार

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
देश में वैक्सीन के आवंटन की जानकादी देते केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण
देश में वैक्सीन के आवंटन की जानकादी देते केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण
ANI

नयी दिल्ली : केंद्र सरकार (Central Government) ने कहा कि फिलहाल देश में रेमडेसिविर (Remdesivir) दवा की कोई कमी नहीं है. केंद्र सरकार ने कहा कि हम डॉक्टरों से अस्पतालों में भर्ती कोविड-19 के मरीजों के उपचार में तार्किक तरीके से रेमडेसिविर दवा के इस्तेमाल करने की अपील करते हैं. रेमडेसिविर केवल अस्पताल में भर्ती ऑक्सीजन पर आश्रित मरीजों के लिए है. घर पर इलाज में इसका इस्तेमाल नहीं होगा, ना ही दवा दुकानों से इसकी खरीदारी होगी.

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा कि देश में लगातार बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामले चिंता का विषय है. नये मामलों में पिछले रिकॉर्ड कब के टूट चुके हैं. यह अलग बात है कि मौतों का आंकड़ा अभी भी पिछले सर्वोच्च आंकड़ों से कम है. पिछले सर्वोच्च आंकड़े एक दिन में 1,114 मौतों के थे और वर्तमान में 879 लोगों की मौत की सूचना है. देश में कुल मामलों के 89.51 फीसदी लोग ठीक हो चुके हैं. 1.25 फीसदी मरीजों की मौत हो चुकी है और एक्टिव मामले 9.24 फीसदी हैं.

तेजी से लगाए जा रहे है वैक्सीन

स्वास्थ्य सचिव ने बताया कि आज सुबह 8 बजे तक देश भर में 10.85 करोड़ से अधिक वैक्सीन की खुराक दी जा चुकी है. जबकि पिछले 24 घंटों में 40 लाख से अधिक खुराक दी गयी है. अब तक हमने राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को वैक्सीन की 13,10,90,000 खुराकें दी हैं. इसमें बेकार हो गयी खुराकों समेत कुल 11.43 करोड़ खुराकों का इस्तेमाल हुआ है.

वैक्सीन की बर्बादी चिंता का विषय

स्वास्थ्य सचिव ने कहा कि एक तरफ केरल की बात करें तो यहा वैक्सीन की बर्बादी शून्य है. वहीं कई राज्य ऐसे हैं जहां 8 से 9 फीसदी तक टीकों की बर्बादी हो रही है. आज सुबह 11 बजे के आंकड़ों केक मुताबिक राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के पास टीके की 1,67,20,000 खुराके हैं. इस महीने के अंत तक 2,01,22,960 डोज और उपलब्ध करा दिये जायेंगे. राज्यों के द्वारा 11.43 करोड़ डोज का इस्तेमाल किया जा चुका है, जिनमें बर्बाद हुए डोज भी शामिल हैं.

स्वास्थ्य सचिव ने कहा कि जिन प्रमुख राज्यों में कोरोना संक्रमण के मामले ज्यादा हैं वहां केंद्र की ओर से 53 टीमों को नियुक्त किया गया है. बता दें कि देश में कुल संक्रमण के मामलों में 80 फीसदी मामले 10 राज्यों से हैं. इसमें महाराष्ट्र शीर्ष पर है. दिल्ली , गुजरात, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़ आदि राज्य में इनमें शामिल हैं.

Posted By: Amlesh Nandan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें