1. home Home
  2. national
  3. labour get employment with e shram card know complete process for applying rts

ई-श्रम कार्ड से संपूर्ण भारत के मजदूरों को मिलेगा रोजगार, जानिए आवेदन के लिए जरूरी योग्यता और पूरी प्रक्रिया

लॉकडाउन और कोरोना महामारी के दौरान सबसे ज्यादा प्रभावित प्रवासी मजदूर रहे हैं. दिहाड़ी मजदूरी करने वाले मजदूरों की स्थिति से दुनिया परिचित हुई इसे देखते हुए भारत सरकार ने ई-श्रम कार्ड(e shram card) योजना की शुरूआत की है. तो आइए जानते हैं इससे जुड़ी सारी जानकारी.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
लॉकडाउन के दौरान प्रवासी मजदूर
लॉकडाउन के दौरान प्रवासी मजदूर
पीटीआई फाइल फोटो

लॉकडाउन और कोरोना के कारण सबसे ज्यादा प्रभावित रोज कमाने खाने वाले मजदूर वर्ग रहा है. इन सब को देखते हुए मजदूरों को आसानी से रोजगार दिलाने के लिए भारत सरकार के श्रम एवं रोजगार मंत्रालय ने हर एक मजदूर परिवारों के हित के लिए ई-श्रम कार्ड(e shram card) योजना की शुरूआत की है. ई-श्रमिक कार्ड योजना में गरीब मजदूरों को उनके क्षमता और कौशल के अनुसार रोजगार दिया जाएगा. इसके लिए मंत्रालय के ऑफिशियल वेबसाइट eshram.gov.in के जरिए घर बैठे रजिस्ट्रेशन किया जा सकता है. तो आइए जानते हैं ई-श्रम कार्ड के लिए आप कब और कैसे आवेदन कर सकते हैं.

कौन कर सकते हैं आवेदन

ई-श्रम कार्ड(e shram card) के लिए ऑनलाइन आवेदन करने के लिए सबसे पहले भारत का नागरिक होना जरूरी है. इसके अलावा आधार कार्ड की अनिवार्यता है. आवेदन करने वाले उम्मीदवार की उम्र सीमा 18 से 60 के बीच होनी चाहिए. परिवार का कोई एक ही सदस्य का श्रमिक कार्ड बनेगा. इसके साथ ही जिन लोगों ने 12 महीने में 90 दिन मजदूर के रूप में काम किया है वे इसके लिए रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं.

ई- श्रम कार्ड के लिए जरूरी दस्तावेज

ई-श्रम कार्ड(e shram card) बनवाने के लिए कुछ जरूरी दस्तवेजों का पास होना जरूरी है. इसके लिए सबसे पहले आधार कार्ड, बैंक खाता पासबुक, मोबाइल नंबर, उम्र प्रमाण पत्र, आवेदक का हाल में लिया गया पासपोर्ट साइज फोटो होना जरूरी है.

ऐसे करें आवेदन

ई-श्रम कार्ड बनाने के लिए ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है. इसके लिए e Shram Card Portal के जरिए रजिस्ट्रेशन किया जा सकता है. वहीं, ई-श्रम कार्ड, ऑनलाइन फार्म के लिए इस पोर्टल का उपयोग कर सकते हैं.

क्या हैं ई-श्रम कार्ड के फायदे

ई-श्रम कार्ड के कई फायदे हैं. इससे मजदूरों को उपचार के लिए सहायता राशि, दुर्घटना होने पर सहायता एक्सीडेंटल लाइफ इंश्योरेंस, मातृत्व लाभ, घर बनाने के लिए ऋण की सुविधा, शिक्षा सहायता,कौशल विकास के लिए वित्तीय सहायता, काम करने में सहायक उपकरणों को खरीदने के लिए सहायता, लाभार्थी की बेटी की शादी के लिए सहायता राशि उपलब्ध कराने के अलावा बिजली बिल में भी सब्सिड जैसी कई सुविधाएं लाभार्थी को दिया जा जाएगा.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें