1. home Home
  2. entertainment
  3. bollywood
  4. alia bhatt and sanjay leela bhansali film gangubai kathiawadi postpones release to avoid clash with rrr know details bud

आल‍िया भट्ट की 'गंगूबाई काठ‍ियावाड़ी' अब नहीं टकरायेगी RRR से, सामने आई फिल्म की नयी रिलीज डेट

फिल्ममेकर संजय लीला भंसाली (Sanjay Leela Bhansali) द्वारा निर्देशित आलिया भट्ट (Alia Bhatt) की फिल्म गंगूबाई काठियावाड़ी (Gangubai Kathiawadi) के निर्माताओं फिल्म की रिलीज की डेट को पोस्टपोन कर दिया है. अब आलिया भट्ट की ये फिल्म 18 फरवरी 2022 को सिनेमाघरों में रिलीज होगी.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
alia bhatt Gangubai Kathiawadi
alia bhatt Gangubai Kathiawadi
instagram

फिल्ममेकर संजय लीला भंसाली (Sanjay Leela Bhansali) द्वारा निर्देशित आलिया भट्ट (Alia Bhatt) की फिल्म गंगूबाई काठियावाड़ी (Gangubai Kathiawadi) के निर्माताओं फिल्म की रिलीज की डेट को पोस्टपोन कर दिया है. अब आलिया भट्ट की ये फिल्म 18 फरवरी 2022 को सिनेमाघरों में रिलीज होगी. पहले यह फिल्म 6 जनवरी 2021 को सिनेमाघरों में दस्तक देनेवाली थी. अगर उस समय ये मूवी रिलीज होती तो एस.एस. राजामौली निर्देशित फिल्म आरआरआर से भिड़ती. इस फिल्म में जूनियर एनटीआर और राम चरण लीड रोल में हैं.

बता दें कि इस फिल्म में भी आलिया भट्ट नजर आयेगी. आलिया ने पेन इंडिया के पोस्ट को सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए लिखा है, “आपको यह बताते हुए खुशी हो रही है कि संजय लीला भंसाली की ‘गंगूबाई काठियावाड़ी’ की नयी रिलीज डेट सामने आ गई है. संजय लीला भंसाली और डॉ. जयंतीलाल गड़ा द्वारा निर्मित फिल्म अब 28 फरवरी 2022 को आपके नजदीकी सिनेमाघरों में रिलीज होगी.” वहीं राजामौली ने इसपर खुशी व्यक्त की है और उन्हें मेकर्स का आभार प्रकट किया है.

राजामौली ने भंसाली और जयंतीलाल गड़ा का आभार जताते हुए ट्वीट में लिखा, “जयंतीलाल गड़ा और मिस्टर संजय लीला भंसाली का रिलीज डेट को लेकर किया गया फैसला सराहनीय है. उनका तहेदिल से शुभकामनाएं.” इससे साफ है कि राजामौली उनके फैसले से बेहद खुश हैं.

बता दें कि, लेखक हुसैन जैदी की किताब माफिया क्वीन्स ऑफ मुम्बई पर यह फ़िल्म आधारित है. मूलरूप से गुजरात के काठियावाड़ की रहनेवाली गंगा को छोटी उम्र में ही वेश्यावृत्ति के लिए मजबूर कर दिया गया. 60 और 70 के दशक का मशहूर डॉन करीम लाला का गंगूबाई को संरक्षण था. वह गंगूबाई को अपनी बहन की तरह मानता था. जिस वजह से मुम्बई में गंगूबाई के खिलाफ कोई जा नहीं सकता था. गंगूबाई अपना कोठा चलाती थी लेकिन किसी भी लड़की को उसकी मर्जी के बिना कोठे पर नहीं रखती थी.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें