1. home Hindi News
  2. state
  3. mp
  4. salute to the spirit despite being found corona positive this woman ias officer is working

जज्बे को सलाम : कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बावजूद भी ये महिला आईएएस अधिकारी कर रही है काम

By Sameer Oraon
Updated Date
आईएएस अधिकारी पल्लवी जैन शनिवार को कोरोना पॉजिटिव पाई गई थी. उसके बावजूद वो अपनी ड्यूटी घर से कर रही है
आईएएस अधिकारी पल्लवी जैन शनिवार को कोरोना पॉजिटिव पाई गई थी. उसके बावजूद वो अपनी ड्यूटी घर से कर रही है
Twitter

जो सच्चे योद्धा होते हैं वो खुद से ज्यादा समाज की चिंता करते हैं, इसी बात को चरितार्थ किया है भोपाल की महिला आईएएस अधिकारी पल्लवी जैन ने. वो मध्य प्रदेश में फिलहाल प्रमुख स्वास्थ्य सचिव है. आईएएस अधिकारी पल्लवी जैन शनिवार को कोरोना पॉजिटिव पाई गई थी. उसके बावजूद वो अपनी ड्यूटी घर से कर रही है.

रविवार को मध्य प्रदेश के मुख्य मंत्री ने एक वीडियो प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी. जिसमें वो भी उपस्थित थी. जहां उन्होंने इस महिला आईएएस अधिकारी की तारीफ की थी. उन्होंने समाज के प्रति उनकी समर्पित भावना देखकर कहा कि आप हमारी सच्ची योद्धा हैं, आप अपना ख्याल रखें और प्रदेश को कोरोना संकट से मुक्ति दिलाने में जुटे रहें.

वहीं महिला अधिकारी ने अपने स्वस्थ्य के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि अभी मैं ठीक हूँ और फिलहाल अपना काम घर से ही कर रही हूँ, सेल्फ क्वारंटाइन जरूर हूँ लेकिन काम करने में सक्षम हूँ, और रोजाना 10 से 12 घंटे काम कर रही हूँ. वहीं प्रदेश के चीफ सेक्रेटरी ने बताया कि गर पल्लवी काम नहीं करगी तो वो बीमार जरूर हो जाएंगी.

आपको बता दें कि मध्य प्रदेश के दो आईएएस अधिकारी में कोरोना के केस पाए गए हैं , जिनमें पल्लवी भी एक है, दूसरे आईएएस अधिकारी हैं हेल्थ कॉर्पोरेशन के एमडी और आयुष्मान योजना के सीईओ जे विजय कुमार भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं, उनकी दो बार कोरोना की रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गयी है.

जे विजय कुमार भी अपने आप को सेल्फ क्वारंटाइन कर लिया है उनके साथ साथ काम करने वाले 12 आईएएस अफसर भी अपने आप को सेल्फ क्वारंटाइन कर लिया है. जे विजय कुमार 2012 बैच के आईएएस अफसर हैं.

मध्य प्रदेश में कुल कितने केस पाए गये हैं

मध्यप्रदेश में कोरोना के कुल 193 पॉजिटिव केस हैं, जिनमें भोपाल में 18, ग्वालियर में 2, इंदौर में 135, जबलपुर में 8, शिवपुरी में 2, उज्जैन में 7, खरगोन में 4, मुरैना में 12, छिंदवाड़ा में 2 और बड़वानी में 3 मरीज हैं. इनमें से 9 लोग स्वास्थ होकर घर लौट आए हैं. वहीं, 13 लोगों की मौत हो गई है. साथ ही 3 लोगों की स्थिति गंभीर बनी हुई है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें