1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. unlock 1 in jharkhand former cm raghuvar das suggestion on unlocking in state said in the initial phase different sectors get permission to open 2 to 3 days smj

Unlock 1 in Jharkhand : झारखंड में अनलॉक पर पूर्वी सीएम रघुवर दास का सुझाव, बोले- शुरुआती दौर में अलग- अलग सेक्टर को 2 से 3 दिन खोलने की मिले अनुमति

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
झारखंड में अनलॉक पर सीएम हेमंत सोरेन की लोगों की राय पर पूर्व सीएम रघुवर दास ने दिये सुझाव.
झारखंड में अनलॉक पर सीएम हेमंत सोरेन की लोगों की राय पर पूर्व सीएम रघुवर दास ने दिये सुझाव.
फाइल फोटो.

Unlock 1 in Jharkhand (रांची) : कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के उद्देश्य से झारखंड में लागू मिनी लॉकडाउन (स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह) में ढील की संभावना बढ़ने लगी है. सोमवार को सीएम हेमंत सोरेन ने अनलॉक को लेकर राज्य की जनता से राय मांगी है. इसी कड़ी में पूर्व सीएम रघुवर दास ने कई सुझाव दिये हैं. उन्होंने शुरुआती दौर में अलग- अलग सेक्टर को दो से तीन दिन तक खोलने की बातें कही है, ताकि मिनी लॉकडाउन के कारण हो रही परेशानी का कुछ हद तक समाधान हो सके.

सोमवार को सीएम हेमंत सोरेन ने झारखंड में अनलॉक 1 को लेकर लोगों से राय मांगी है. ट्वीट कर उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह में लोगों के सहयोग के कारण ही राज्य में कोरोना की दूसरी लहर पर काबू पाया गया है. सरकार अनलॉक 1 पर विचार कर रही है. इससे पहले लोगों की राय भी सरकार जानना चाहती है.

इसी कड़ी में झारखंड के पूर्व सीएम रघुवर दास ने अपने सुझाव दिये हैं. उन्होंने कहा कि मिनी लॉकडाउन के कारण हर तबके के लोग परेशान हुए हैं. उन्होंने अलग-अलग सेक्टर से जुड़े लोगों को राहत देने का सुझाव दिया है. उन्होंने सुझाव दिया कि अलग- अलग सेक्टर की दुकानें दो से तीन दिन खोला जाये.

वहीं, व्यापार को वर्गों में बांट कर दिवस निर्धारित किया जाये. कम से कम दो या तीन दिन सभी प्रतिष्ठानों को खोलने की अनुमति दी जाये. इससे बाजारों में भीड़ भी नियंत्रित रहेगी और अलग- अलग सेक्टर से जुड़े लोगों का भरण पोषण भी हो सकेगा. वर्तमान में मिनी लॉकडाउन के कारण छात्र समेत अभिभावक, व्यापारी और उनके कर्मचारी सभी परेशान हैं.

उन्होंने कहा कि स्कूल समेत अन्य शिक्षण संस्थान भले ही ऑनलाइन की पढ़ाई करा रहे हैं, लेकिन किताब, कॉपी और अन्य स्टेशनरी की दुकानें सुचारू रूप से नहीं खुलने से छात्र के साथ-साथ उनके अभिभावकों को भी काफी परेशानी उठानी पड़ रही है. इसी तरह अन्य क्षेत्र से जुड़े लोगों का भी हाल बेहाल है. इसलिए जरूरी है कि सप्ताह में दो या तीन दिन निर्धारित कर दुकानें व अन्य संस्थान खोली जाये, ताकि उनकी परेशानियों को हल निकाला जा सके.

मालूम हो कि झारखंड में गत 22 अप्रैल, 2021 से आगामी 3 जून, 2021 तक मिनी लॉकडाउन लागू है. राज्य की हेमंत सरकार ने गत 22 अप्रैल से पांच चरणाें में मिनी लॉकडाउन (स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह) लागू की है. इस दौरान दोपहर दो बजे के बाद आवश्यक वस्तुओं की दुकानों को छोड़ अन्य दुकानों के खोले जाने पर पाबंदी लगायी है. वहीं, बिना ई-पास के बाहर निकलने पर भी मनाही है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें