1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. jharkhand news the income tax department raided nine locations located in ranchi of contractor pancham singh action taken due to this srn

ठेकेदार पंचम सिंह के रांची स्थित नौ ठिकानों पर आयकर विभाग का छापा, इस वजह से की गयी कार्रवाई

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
ठेकेदार पंचम सिंह के रांची स्थित ठिकानों पर आयकर विभाग का छापा
ठेकेदार पंचम सिंह के रांची स्थित ठिकानों पर आयकर विभाग का छापा
Twitter

jharkhand news, ranchi news, Income tax department raid in ranchi रांची : आयकर विभाग ने पंचम सिंह व उनसे जुड़ी कंपनी और स्कूल के रांची स्थित ठिकानों पर छापा मारा. आयकर विभाग की अनुसंधान शाखा ने विजेता कंस्ट्रक्शन सहित अन्य कंपनियों द्वारा अपनी वास्तविक व्यापारिक गतिविधियों को छिपाने और टैक्स चोरी करने की सूचनाओं के मद्देनजर यह कार्रवाई की. छापेमारी के दौरान व्यापारिक गतिविधियों और चल-अचल संपत्ति में किये गये निवेश से जुड़े दस्तावेज जब्त किये गये हैं. छापेमारी में झारखंड व बिहार के 200 अधिकारियों को शामिल किया गया है.

चलाते हैं कंस्ट्रक्शन कंपनी और स्कूल :

पंचम सिंह व उनके भाई परमा सिंह द्वारा कंस्ट्रक्शन कंपनी और स्कूल चलाया जाता है. विजेता कंस्ट्रक्शन राज्य में भवन निर्माण और सिंचाई परियोजनाओं का काम करती है.

सिंह परिवार द्वारा रांची में चार स्कूल चलाये जाते हैं.

स्कूलों का संचालन मोती राज देनी ट्रस्ट के माध्यम से किया जाता है. आयकर विभाग की अनुसंधान शाखा ने सुबह करीब नौ बजे मोरहाबादी स्थित पंचम सिंह व परमा सिंह के घर और विजेता कंस्ट्रक्शन के दफ्तर पर छापा मारा. कांके,धुर्वा,काठी टांड और सिकिदरी में कैंब्रियन पब्लिक स्कूल में और एक टीचर्स ट्रेनिंग कॉलेज के दफ्तर में छापेमारी की गयी. स्कूल बंद होने के कारण पहले स्कूल से जुड़े कुछ कर्मचारियों को बुलाया गया. इसके बाद स्कूल की आमदनी और खर्च से जुड़े दस्तावेज की जांच शुरू की गयी. इसके अलावा आयकर विभाग ने पंचम सिंह ग्रुप के चार्टर्ड अकाउंटेंट प्रवीण कुमार के टाटी सिल्वे स्थित ठिकाने पर छापा मारा.

आरआरडीए का तीन साल तक अध्यक्ष रहे परमा सिंह

परमा सिंह व्यापारिक गतिविधियों के साथ-साथ राजनीति गतिविधियों में शामिल रहते हैं. वह जुलाई 2016 से तीन साल तक रांची क्षेत्रीय विकास प्राधिकार(आरआरडीए) के अध्यक्ष रह चुके हैं. छापेमारी के दौरान घर और दफ्तर से मिले व्यापारिक गतिविधियों और निवेश से संबंधित दस्तावेज की जांच की जा रही है. सीए के ठिकाने से भी कंपनी की आमदनी और खर्च के हिसाब-किताब(बुक्स ऑफ अकाउंट्स)से जुड़े दस्तावेज मिले हैं. आयकर अधिकारियों का दल छापामारी में मिले दस्तावेज की जांच कर रहा है.

Posted By : Sameer Oraon

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें