आइआइएम, ट्रिपल आइटी समेत कई शिक्षण संस्थानों को नहीं मिली जमीन

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
संस्थानों को नहीं मिल रही है जमीनयोजनाओं के लिए चाहिए 700 एकड़ जमीनवरीय संवाददाता, रांचीराजधानी रांची में बननेवाले शैक्षणिक संस्थानों के लिए समय पर जमीन नहीं मिल रही है. इसमें भारतीय प्रबंधन संस्थान, ट्रिपल आइटी, राष्ट्रीय गवर्नेंस अकादमी समेत 30 परियोजनाएं शामिल हैं. इन परियोजनाओं को अमली जामा पहनाने के लिए कुल 700 एकड़ जमीन की आवश्यकता है. सरकार के स्तर पर कई प्रयास किये जा रहे हैं, पर जमीन उपलब्ध नहीं करायी जा सकी है. इस बारे में संबंधित विभागों की ओर से कई बार जिला प्रशासन को पत्र लिखा गया है. सरकार की ओर से प्रस्तावित योजनाओं के लिए जमीन उपलब्ध कराने का आग्रह किया है. हिंडालको को सोनाहातू में 2058.66 एकड़ जमीन चाहिए. वहीं पावर ग्रिड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया को भी जमीन की आवश्यकता है. पावर ग्रिड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया ने बुढ़मू, मांडर, बेड़ो, नामकुम, नगड़ी, खलारी व चान्हो में जमीन की मांग की है. इस मामले को लेकर उपायुक्त विनय कुमार चौबे की अध्यक्षता में पिछले माह बैठक भी हुई है. इसमें सभी संबंधित अंचलाधिकारियों को कार्यों में तेजी लाने का निर्देश दिया गया है. प्रोजेक्ट व जमीन का विवरण इस प्रकार है:प्रोजेक्ट का नामप्रस्तावित जमीनआइआइएम 105 एकड़ट्रिपल आइटी53 एकड़सोलर पार्क500 एकड़(राजाउलातू)श्री कृष्ण प्रशासनिक प्र संस्थान100 एकड़(चेड़ी कांके)केंद्रीय भूमि जल बोर्डतीन एकड़(रातू)केंद्रीय औषधि जांच प्रयोगशालापांच एकड़(इटकी)केंद्रीय प्रशासनिक न्यायाधिकरणनगड़ीमल्टी स्कील्ड डेवलपमेंट सेंटर10 एकड़(शहर अंचल)भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण कार्यालय छह एकड़(चेड़ी व सांगा गांव)राष्ट्रीय प्रतिदर्श सर्वेक्षण कार्यालय0.16 एकड़एनआइआइएलआइटी प्रशिक्षण केंद्र15 एकड़(कांके)नेशनल गवर्नेंस एकेडमी10 एकड़सीआरपीएफ कैंप0.69 एकड़(नामकोम)अग्निशमन सेवा केंद्रदो एकड़(बुंडू)
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें