झारखंड : जेल में बंद लालू से मिलवाने के लिए समर्थकों से दलाल मांग रहे रुपये

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
रंजन नाम का दलाल खुद को बता रहा लालू का निजी सचिव
समर्थकों ने जेल आइजी से की शिकायत
रांची : चारा घोटाले में सजायाफ्ता राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद इन दिनों बिरसा केंद्रीय कारा, होटवार में बंद हैं. इनसे जेल में मिलवाने के लिए समर्थकों से रंजन कुमार नाम का दलाल दो-दो हजार रुपये मांग रहा है. वह खुद को लालू का निजी सचिव बताता है. इस संबंध में बिहार से आये लालू के समर्थकों क्यूम अंसारी, अनिल सिंह, गफ्फार अंसारी, वीरेंद्र राम, गोपाल राय, लालू बाबू यादव, सुनील राय, कारी सोहैब, अर्जुन राय, अनवालून हक, किशुन देव यादव ने जेल आइजी से शिकायत की है.
शिकायतकर्ताओं ने कहा है कि रंजन ने उन लोगों से कहा कि लालू से मिलना है, तो हर आदमी को दो-दो हजार रुपये देने होंगे. क्योंकि हम लालू के निजी सचिव हैं. पैसे देने के बाद मेरे इशारे पर ही जेल के अधिकारी लालू से मिलवा देंगे. इसको लेकर राबड़ी देवी के आवास पर फोन कर रंजन के संबंध में पता किया गया, तो वहां से कहा गया कि रंजन नाम का कोई व्यक्ति लालू का निजी सचिव नहीं है. रंजन ने समर्थकों से यह भी दावा किया कि उसने ही अन्नपूर्णा देवी को झारखंड प्रदेश राजद का अध्यक्ष लालू प्रसाद से बोलकर बनवाया है. रंजन ने इन लोगों को 9386929021 और 9431354486 नंबर भी दिया था. समर्थकों ने इस संबंध में जेल आइजी से कार्रवाई की मांग की है. मामले में समर्थकों को कार्रवाई का भरोसा दिया गया है.
चारा घोटाला मामले में कोर्ट में पेश हुए लालू
चारा घोटाला (आरसी 47ए/96) मामले में राजद प्रमुख लालू प्रसाद शुक्रवार को सीबीआइ के विशेष न्यायाधीश प्रदीप कुमार की अदालत में पेश हुए. उनके साथ आरके राणा, जगदीश शर्मा सहित अन्य आरोपी भी कोर्ट पहुंचे. हालांकि आज गवाही नहीं हो सकी. सीबीआइ के वरीय विशेष लोक अभियोजक बीएमपी सिंह ने बताया कि बोकारो के तत्कालीन जिला पशुपालन पदाधिकारी डॉ अरुण कुमार सिन्हा ने सूचना दी है कि उनकी तबियत खराब हो गयी है इसलिए वे शुक्रवार को गवाही के लिए नहीं आ सकेंगे. अब इनकी गवाही 23 जनवरी को होगी़ वहीं एक अन्य गवाह गिरधारी लाल का पता नहीं चल पा रहा है.
जज शिवपाल सिंह को चाहिए आर्म्स लाइसेंस
सीबीआइ के विशेष न्यायाधीश शिव पाल सिंह, उनके पुत्र शिवम प्रताप व पुत्री रिद्धि को आर्म्स लाइसेंस चााहिए. तीनों ने आर्म्स लाइसेंस के लिए आवेदन दिया था. आर्म्स लाइसेंस का आवेदन वेरीफिकेशन के लिए सुखदेवनगर थाना पहुंचा था. सुखदेवनगर थाना प्रभारी नवल किशोर सिंह ने बताया कि आठ दिन पहले आवेदन आया था, वेरीफिकेशन के बाद उसे कोतवाली डीएसपी के पास भेजा गया है़
लालू की याचिका पर सुनवाई नहीं
हाइकोर्ट में शुक्रवार को सुप्रीमो लालू प्रसाद की क्रिमिनल अपील याचिका पर सुनवाई नहीं हो पायी. नियमित बेंच नहीं रहने के कारण प्रार्थी की अोर से जस्टिस एचसी मिश्रा की अदालत में अपील पर सुनवाई करने का आग्रह किया गया. लेकिन, अदालत ने सुनवाई से मना कर दिया. हालांकि मामले को 23 जनवरी को सूचीबद्ध करने को कहा गया है. उल्लेखनीय है कि प्रार्थी ने अपील याचिका दायर कर सीबीआइ की विशेष अदालत के फैसले को चुनाैती दी है. जमानत देने का भी आग्रह किया है.
सुखदेव सिंह की क्वैशिंग याचिका पर नहीं हो सकी सुनवाई
झारखंड हाइकोर्ट में शुक्रवार को चारा घोटाला मामले (आरसी-64ए/96) में सीबीआइ के विशेष न्यायाधीश की अदालत द्वारा आरोपी बनाने को चुनाैती देनेवाली क्वैशिंग याचिका पर सुनवाई नहीं हो पायी.
चारा घोटाला मामला देखनेवाली नियमित बेंच के आज नहीं होने के कारण सुनवाई नहीं हो सकी. हालांकि प्रार्थी की अोर से जस्टिस एचसी मिश्रा की अदालत में सुनवाई का आग्रह किया गया. लेकिन अदालत ने 23 जनवरी को मामले को सूचीबद्ध करने को कहा. उल्लेखनीय है कि प्रार्थी देवघर के तत्कालीन उपायुक्त रहे सुखदेव सिंह ने क्वैशिंग याचिका दायर की है.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें