1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. kodarma
  5. accident in stone quarry near batio river of koderma one worker died one injured smj

कोडरमा के बटियो नदी के पास पत्थर खदान में हादसा, एक मजदूर की हुई मौत, एक घायल

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
कोडरमा के पहाड़पुर स्थित बटियो नदी के समीप संचालित पत्थर खदान में हादसा. एक मजदूर की मौत.
कोडरमा के पहाड़पुर स्थित बटियो नदी के समीप संचालित पत्थर खदान में हादसा. एक मजदूर की मौत.
प्रभात खबर.

Jharkhand News (मरकच्चो, कोडरमा) : झारखंड के कोडरमा जिला अंतर्गत नवलशाही थाना क्षेत्र के पहाड़पुर स्थित बटियो नदी के समीप संचालित पत्थर खदान में मंगलवार को हादसा हुआ. यहां अचानक पत्थरों का मलबा गिरने से एक मजदूर की मौके पर ही मौत हो गयी, जबकि एक अन्य मजदूर गंभीर रूप से घायल हो गया. मृतक की पहचान दिबौर कोडरमा निवासी मुकेश तूरी पिता स्वर्गीय चंदेश्वर तुरी के रूप में हुई है. वहीं, घायल की पहचान सामने नहीं आ पायी है. घटना दोपहर करीब 12 बजे की है.

जानकारी के अनुसार, दोनों मजदूर 11 नंबर खदान में ड्रिलिंग का काम करते थे. हर दिन की तरह मंगलवार को भी दोनों ट्रैक्टर लेकर खदान में ड्रिलिंग का काम कर रहे थे. इसी दौरान खदान से पत्थरों का मलबा उक्त दोनों मजदूरों पर आ गिरा, जिससे मुकेश की मौत मौके पर ही हो गयी, जबकि एक मजदूर गंभीर रूप से घायल हो गया.

घटना के बाद खदान में कार्य कर रहे अन्य मजदूरों ने खदान से ऊपर आकर इसकी जानकारी ग्रामीणों को दी. इसके बाद घायल को इलाज के लिए ले जाया गया. घटना को लेकर पूछे जाने पर थाना प्रभारी इकबाल हुसैन ने बताया कि वे जानकारी के बाद घटनास्थल पर पहुंचे, पर वहां उन्हें कुछ भी नहीं मिला.

श्री हुसैन ने कहा कि घटनास्थल पर कोई भी मौजूद नहीं था, इसलिए उन्हे कोई जानकारी नहीं मिल पायी. वहीं उन्हें किसी तरह का कोई लिखित आवेदन भी नहीं मिला है. इस कारण मैं कोई भी जानकारी देने में असमर्थ हूं. घटना में किसी मजदूर कि मौत हुई है इसकी भी जानकारी मुझे नहीं है.

मालूम हो कि इलाके के पत्थर खदानों में सुरक्षा नियमों की अनदेखी का उत्खनन का कार्य किया जाता है. कई खदान खतरनाक स्थिति में पहुंच गए हैं. वहीं, खदान में कार्यरत मजदूरों की सुरक्षा का भी कोई ध्यान नहीं रखा जाता है. खान सुरक्षा निदेशालय के द्वारा कई खदानों को खतरनाक बताकर उत्खनन पर रोक के आदेश दिये गये हैं. बावजूद इसके ऐसे कई खदानों में उत्खनन का कार्य जारी है. बारिश के दिनों में ऐसे खदानों की स्थिति और भी खतरनाक हो जाती है.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें