1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. jharkhand panchayat chunav 2022
  5. jharkhand panchayat chunav in gumla with the help of son and grandson some reached the booth with sticks 63 voting in district smj

गांव की सरकार : गुमला में कोई बेटे और नाती के सहारे तो कोई लाठी टेकते पहुंचे थे बूथ, जिले में 63 % वोटिंग

झारखंड में पंचायत चुनाव का पहला चरण शांतिपूर्ण संपन्न हुआ. गुमला में भी अन्य वोटर्स की भांति वृद्ध और दिव्यांग वोटर्स में भी वोटिंग को लेकर काफी उत्साह देखा गया. कोई अपने बेटे और नाती के साथ वोटिंग के लिए पहुंचे, तो कोई रिक्शा के सहारे दिव्यांग बूथ तक पहुंचे.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news: गुमला में वृद्ध वोटर्स से लेकर दिव्यांग वोटर्स में भी देखिए वोटिंग का उत्साह.
Jharkhand news: गुमला में वृद्ध वोटर्स से लेकर दिव्यांग वोटर्स में भी देखिए वोटिंग का उत्साह.
प्रभात खबर.

Jharkhand Panchayat Chuanv: गुमला जिला अंतर्गत रायडीह प्रखंड के पारासीमा बूथ संख्या 46 में 85 वर्षीय वृद्ध मतदाता जुलियुस मिंज अपने बेटों के सहारे, तो 85 वर्षीय वृद्धा असारी देवी लाठी टेकते हुए मतदान करने के लिए बूथ तक पहुंची थी. जुलियुस मिंज चलने-फिरने में असमर्थ है, लेकिन उसे मतदान करना जरूरी थी. इसलिए वह अपने बेटों के साथ मतदान करने के लिए बूथ पहुंचा था. जुलियुस ने मतदान करने के बाद बताया कि वह विगत 65 वर्षों से मतदान कर रहा है. हर चुनाव में किसी ऐसे प्रत्याशी को अपना मत देता है, जिससे गांव-घर की समस्याएं दूर हो और विकास हो सके. इस बार भी इसी सोच के साथ मतदान किये हैं.

वृद्धा असारी देवी में वोटिंग का उत्साह

वहीं, वृद्धा असारी देवी ने बताया कि वह पिछले कई चुनाव में मतदान कर चुकी है. असारी ने बताया कि वह पहले के जनप्रतिनिधियों से नाराज है. नाराज इसलिए है क्योंकि गांव में चलने लायक सही सड़क नहीं है. पीने के लिए साफ पानी तक की समस्या है. पहले के जनप्रतिनिधि गांव की इन समस्याओं को जानते हैं. इसके बावजूद उनलोगों के द्वारा समस्याओं को दूर नहीं किया गया. लेकिन, इस बार प्रत्याशियों ने गांव की इन समस्याओं को दूर करने की बात कही है. इसलिए ऐसे ही प्रत्याशी को वोट दिये हैं.

रिक्शा के सहारे दिव्यांग बुदू पहुंचे बूथ, किया वोटिंग

सिसई प्रखंड के सैंदा गांव के बुदू लोहरा दिव्यांग है. रिक्शा में उसके दो पोते उसे ले गये. इसके बाद बुदू ने बूथ में जाकर वोट दिया. रायडीह प्रखंड के मेढ़ाली गांव की 80 वर्षीय चाइना देवी को उसके बेटे लाठी के सहारे बूथ तक ले गया. गांव से बूथ की दूरी करीब ढाई किमी है. बेटे के सहारे चाइना बूथ पहुंची और वोट दी.

प्रत्याशियों ने मतदाताओं को बूथ जाकर मतदान करने के लिए प्रेरित किया

मतदान के दौरान जिप सदस्य, पंस सदस्य, मुखिया एवं वार्ड सदस्य के प्रत्याशी काफी सक्रिय दिखे. जो मतदाता मतदान करने के लिए बूथ नहीं गये थे. प्रत्याशी वैसे मतदाताओं के घर पर जाकर मतदाता को मतदान के लिए बूथ भेजते हुए दिखे. प्रत्याशी जब मतदाता के घर पहुंचे तो मतदाता ने मुस्कान के साथ प्रत्याशी का स्वागत किया. इसके बाद प्रत्याशी ने मतदाता का हालचाल जाना और मतदान करने हेतु बूथ जाने के लिए प्रेरित किया. इस दौरान प्रत्याशियों ने मतदाताओं को अपना चुनाव चिन्ह और क्रमांक संख्या की भी जानकारी दी और अपने पक्ष में मतदान करने की बात कही. वहीं प्रत्याशियों ने सड़क पर दिखने वाले लोगों से भी मतदान किया या नहीं की जानकारी ली. मतदान नहीं करने की जानकारी मिलने पर प्रत्याशी ने मतदाता को अपना चुनाव चिह्न और क्रमांक संख्या की जानकारी देते हुए बूथ भेजा.

रिपोर्ट : जगरनाथ पासवान, गुमला.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें