1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. jamtara
  5. jharkhand cyber crime news notorious cyber criminal sitaram mondal cousin in law nandlal mondal and vicky mondal arrested by jamtara police of jharkhand mth

कुख्यात साइबर अपराधी सीताराम मंडल के चचेरे ससुर नंदलाल मंडल व विक्की मंडल गिरफ्तार

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
फिर पुलिस की गिरफ्त में आया विक्की मंडल. साइबर क्राइम में पहले भी जा चुका है जेल.
फिर पुलिस की गिरफ्त में आया विक्की मंडल. साइबर क्राइम में पहले भी जा चुका है जेल.
Prabhat Khabar

जामताड़ा : देश भर की पुलिस की नाक में दम कर देने वाले जामताड़ा के साइबर अपराधियों को सलाखों के पीछे डालने के लिए जिला की पुलिस ने कमर कस ली है. जामताड़ा की साइबर थाना पुलिस को अगस्त के महीने में अच्छी-खासी सफलता भी हाथ लगी है. 4 दिन में 7 अपराधियों को पुलिस ने धर दबोचा. बीते 10 दिन के अंदर लगभग एक दर्जन साइबर अपराधियों को सलाखों के पीछे पुलिस ने पहुंचा दिया है.

रविवार (30 अगस्त, 2020) को साइबर थाना पुलिस ने साइबर अपराध की दुनिया में कुख्यात सीताराम मंडल के चचेरे ससुर नंदलाल मंडल एवं उसके दोस्त विक्की मंडल को गिरफ्तार कर लिया. दोनों तारापीठ से पूजा कर नंदलाल मंडल, विक्की मंडल और दो अन्य लोग लौटे थे. इन दोनों की गिरफ्तारी के साथ-साथ पुलिस ने इनके पास से एक वर्ना कार भी जब्त की है.

साइबर थाना पुलिस ने पिछले एक सप्ताह में साइबर अपराधियों की नाक में दम कर रखा है. एक के बाद एक साइबर क्रिमिनल पुलिस की गिरफ्त में आ रहे हैं. पुलिस को सूचना मिली थी कि तारापीठ से पूजा करके नंदलाल मंडल, विक्की मंडल और दो अन्य लोग लौटे हैं. साइबर थाना पुलिस ने करमाटांड़ थाना क्षेत्र के सतुआटांड़ गांव में छापेमारी कर इन्हें हिरासत में ले लिया.

हिरासत में लिये गये लोग साइबर अपराध की दुनिया में कुख्यात सीताराम मंडल का चचेरा ससुर नंदलाल मंडल एवं उसका दोस्त विक्की मंडल हैं. विक्की वर्ष 2017 में करमाटांड़ थाना के कांड संख्या 275/17 में जेल जा चुका है. साइबर थाना की पुलिस ने पूछताछ के बाद विक्की और नंदलाल को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया.

दोनों करमाटांड़ बाजार में चलाते हैं कपड़े की दुकान

नंदलाल मंडल एवं विक्की मंडल की करमाटांड़ बाजार में कपड़े की बड़ी दुकान है. दोनों दुकान अगल-बगल में ही बताया जा रहा है. पुलिस अब इस बात को सत्यापित करने में जुटी है कि दुकान में जो पूंजी लगायी गयी है, उसका स्रोत क्या है. इसमें सिर्फ इनके द्वारा साइबर अपराध के जरिये अर्जित रुपये लगाये गये हैं या अन्य लोगों के पैसे भी इसमें लगे हैं.

विक्की मंडल साइबर अपराध का पुराना खिलाड़ी

विक्की मंडल साइबर अपराध की दुनिया में पुराना खिलाड़ी है. वह पिछले कई वर्षों से साइबर अपराध के धंधे में लिप्त है. वर्ष 2017 में उसकी गिरफ्तारी भी हो चुकी है. वहीं, धनबाद जिला के मनियाडीह थाना क्षेत्र के चरकखुर्द गांव निवासी नंदलाल मंडल कुख्यात साइबर अपराधी सीताराम मंडल का चचेरा ससुर है.

उसने भी करमाटांड़ बाजार में ही अपना व्यवसाय जमा रखा है. पुलिस इस कनेक्शन को भी खंगालने में जुट गयी है. करमाटांड़ बाजार में नंदलाल मंडल की दुकान में निवेश किये गये पैसे सिर्फ नंदलाल मंडल की कमाई का पैसा है या सीताराम मंडल का पैसा भी इसमें निवेश किया गया है.

वर्ना कार भी हुई है बरामद

गिरफ्तारी के दौरान पुलिस ने दोनों साइबर अपराधियों के पास से 3 मोबाइल फोन, 10 सिम कार्ड, 8 एटीएम कार्ड तथा एक वर्ना कार बरामद की है. साइबर थाना पुलिस ने कांड संख्या 40/20 दर्ज करते हुए रविवार को दोनों साइबर आरोपियों को मेडिकल जांच करवाकर जेल भेज दिया.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें