फेसबुक पर गलत नाम बता दोस्ती, फिर शादी

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

दो साल बाद पुलिस ने महिला को मुक्त कराया

आजादनगर
तीन लोगों पर केस दर्ज, पति तनवीर को
पुलिस ने भेजा जेल
मामले को लेकर उलीडीह में दो पक्षों में वर्ष 2015 में हुआ था हंगामा, अब मां के घर
रहेगी महिला
जमशेदपुर : आजादनगर ओल्ड पुरुलिया रोड नंबर 12 में कैद में रह रही महिला रमा कुमारी ओझा उर्फ बुसरा खान को पुलिस ने बीता रात को सूचना मिलने पर मुक्त कराया. उलीडीह की रमा के बयान पर साकची महिला थाना में पति तनवीर अख्तर खान उर्फ तन्नू, सोहेल और रुबीना के खिलाफ मारपीट, प्रताड़ित करने व शादीशुदा होने के बाद भी दूसरी महिला से संबंध रखने का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज किया है. पुलिस ने तनवीर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.
रमा ने पुलिस को दिये बयान में बताया है कि उसकी तनवीर से फेसबुक के माध्यम से दोस्ती हुई थी. दोनों ने एक-दूसरे को गलत नाम बताकर दोस्ती की और फिर नजदीकियां बढ़ने के बाद वर्ष 2015 में शादी के लिए राजी हुए. दोनों की शादी की जानकारी समुदाय के लोगों को होने पर काफी हंगामा हुआ, लेकिन वो तनवीर के साथ रहने के पक्ष में थी. ससुराल जाने के बाद उसको ससुराल वाले तंग करने लगे. उसे मायके वालों से फोन पर बात नहीं करने देते थे. घर से बाहर आने-जाने पर रोक लगाकर रखा था. इसके बाद तनवीर ने गांव की एक महिला को अपने घर पर लाकर रखा और उसके साथ अवैध संबंध बनाया. इसके विरोध करने पर मारपीट करने लगा. साथ ही दो बार जहर देकर जान मारने का प्रयास किया. पिछले दस दिनों से वह किसी तरह से मोबाइल के जरिये प्रताड़ना का मैसेज को अपनी मां और अन्य लोगों को भेजा. इसके बाद मायके पक्ष के लोगों ने और हिंदू जागरण मंच ने मामले की जानकारी पुलिस को दी, जिसके बाद बीती रात को उसको और उसके पति तनवीर को आजादनगर से पकड़कर पुलिस थाना ले गयी. महिला को मां के हवाले कर दिया गया, जबकि तनवीर को पुलिस ने मामला दर्ज करते हुए जेल भेज दिया है. मामले को लेकर शुक्रवार को दिन में महिला थाना में काफी भीड़ लगी हुई थी. दोनों के बीच शादी को लेकर वर्ष 2015 में उलीडीह थाना में काफी हंगामा हुआ था. मामले के बाद दोनों पक्ष के लोगों में कई दिनों तक तनाव की स्थिति थी.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें