पौधरोपण से ही शुद्ध रहेगा पर्यावरण

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

खगड़िया : प्रधानमंत्री के जन्मदिन के अवसर पर पौधारोपण, स्वच्छता ही सेवा एवं राष्ट्रीय पोषण मिशन के अंतर्गत पोषण दक्ष (पोषण बागवानी)के रूप में विकसित करने से जुड़े कार्यक्रम की शुरुआत की गयी. कृषि विज्ञान केंद्र में आयोजित कार्यक्रम का उप विकास आयुक्त सहित अन्य अधिकारियों ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्जवलित कर शुभारंभ किया. इस अवसर पर पदाधिकारियों ने केंद्र परिसर में पौधारोपण भी किया.

कार्यक्रम में केंद्र के द्वारा प्रगतिशील किसानों एवं आंगनबाड़ी के प्रवेक्षिकाओं, सेविकाओं के बीच पौधे का वितरण किया गया. जिसमें फलदार एवं लकड़ी के पौधे शामिल थे. इस अवसर पर डीडीसी ने कहा कि आये दिन सूखे की स्थिति उत्पन्न हो रही है, ऐसी स्थिति के लिये मानव जीवन भी काफी हद तक जिम्मेवार हैं. उन्होंने प्लास्टिक मुक्त पर्यावरण बनाने के लिये आमलोगों को आगे आने की अपील की.
साथ ही कहा कि भोजन बनाने के लिये लोहे के बर्तन का इस्तेमाल करना चाहिए ताकि आयरन की पूर्ति आवश्यकतानुसार होता रहे. इस मौके पर आंगनबाड़ी केन्द्रों पर पोषण वाटिका द्वारा गर्भवती महिला, स्तनपान कराने वाली माताओं एवं कुपोषित बच्चों को समय से साग-सब्जी व फलों के सेवन से कुपोषण को दूर करने की सलाह दी गयी.
वैज्ञानिक नंद किशोर सिंह के मंच संचालन में पौधे को वैज्ञानिक तरीके से लगाने पर प्रकाश डाला गया. वैज्ञानिक श्री जितेन्द्र कुमार ने पौधारोपण कार्यक्रम के महत्व पर प्रकाश डाला. डाॅ पूजा कुमारी ने धन्यवाद ज्ञापन किया. कार्यक्रम में प्रियरंजन, पवन यादव, राहुल कुमार, सोनी कुमारी सिंह, चंदन कुमार सहित विभिन्न प्रखंडों से आये प्रगतिशील किसानों सहित महिला पर्यवेक्षिकाओं आदि ने भाग लिया.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें