siwan

  • Jan 24 2020 5:50AM
Advertisement

दवा व्यवसायियों की हड़ताल समाप्त, मरीजों को मिली राहत

 छपरा : बिहार सरकार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय से हुई वार्ता के बाद दवा विक्रेताओं की हड़ताल समाप्त हो गयी. विदित हो कि अपनी विभिन्न मांगों को लेकर राज्य संघ के आह्वान पर सारण जिला औषधि विक्रेता संघ ने तीन दिवसीय बंद का आह्वान किया था. जिसके अंतर्गत 22,23 व 24 जनवरी को जिले की सभी थोक व खुदरा दुकानों को बंद रखने का निर्णय लिया गया था. पहले दिन हुई बंद का व्यापक असर दिखा. 

 
उसके बाद बुधवार की देर शाम बिहार केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष व अन्य प्रतिनिधियों ने स्वास्थ्य मंत्री से अपनी मांगों के समर्थन में वार्ता की. वार्ता में मिले आश्वासन के बाद से बंद को समाप्त करने का निर्णय लिया गया. 
 
दुकानें खुलीं, तो मरीजों को मिली राहत : दवा विक्रेताओं के बंद का पहले दिन पूरे जिले में प्रभाव देखने को मिला था. नर्सिंग होम व अस्पताल के सामने की दवा दुकानें बंद में शामिल नहीं थी. जिस कारण मरीजों को थोड़ी राहत मिल रही थी. गुरुवार को बंद के समाप्त होने के बाद सुबह से ही सभी प्रमुख दवा दुकानों में भीड़ नजर आयी. 
 
शहर के व्यस्ततम श्रीनंदन पथ स्थित मेडिसिन बाजार में सभी होलसेल दवा की दुकानें खुली जहां बड़ी संख्या में खुदरा दुकानदार स्टॉक के अनुसार दवा खरीदने पहुंचे. नगर पालिका, मौना चौक, भगवान बाजार, गुदरी, गांधी चौक आदि प्रमुख इलाकों में स्थित दवा की दुकानों पर भी मरीजों व उनके परिजनों की अच्छी खासी भीड़ नजर आयी. 
 
व्यवसायियों ने जतायी खुशी
राज्य में जल्द खुलेंगे 22 फार्मेसी कॉलेज : स्वास्थ्य मंत्री
राज्य संघ के प्रतिनिधियों को वार्ता के क्रम में स्वास्थ्य मंत्री ने यह जानकारी दी है कि राज्य में जल्द ही 22 फार्मेसी कॉलेज खुलेंगी. जिससे फार्मासिस्टों की संख्या बढ़ सकेगी. उन्होंने बताया कि वर्तमान में फार्मासिस्टों की पढ़ाई के लिए राज्य में दो कॉलेजों को मान्यता दी गयी है. वहीं कई कॉलेज खुलने की प्रक्रिया में हैं. विदित हो कि बिहार में 40 हजार दवा विक्रेताओं को लाइसेंस निर्गत किया गया है. जबकि फार्मासिस्टों की संख्या सिर्फ सात हजार है. 
 
वहीं सरकार का निर्देश है कि बिना फार्मासिस्ट रखे कोई दुकान नहीं चलेगी. ऐसे में दवा विक्रेताओं को काफी परेशानी होती है. जिसे लेकर ही राज्य स्तर पर तीन दिवसीय बंद का आह्वान किया गया था.
 
व्यवसायियों ने जतायी खुशी
सारण जिला औषधि विक्रेता संघ के अध्यक्ष अभिषेक कुमार ने बताया कि बुधवार की देर शाम बिहार संघ के अध्यक्ष के निर्देश पर एक प्रतिनिधिमंडल ने स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय से मुलाकात की और केमिस्टों को मांगों के संदर्भ में सरकार को समाधान करने का आग्रह किया. 
 
जिसके बाद मंत्री ने प्रतिनिधियों को आश्वास्त किया कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री से मिलकर राज्य के सभी केमिस्टों की समस्या का समाधान निकाला जायेगा. उन्होंने कहा कि विभाग द्वारा दुकानों के निरीक्षण में भी सरलता अपनायी जायेगी. 
 
वहीं तकनीकी बिंदुओं की स्पष्ट व्याख्या देते हुए विभाग को निर्देश जारी किया जायेगा कि निरीक्षण के क्रम में तकनीकी गलतियों पर दुकानदारों को सुधार का मौका देते हुए ही उचित कार्रवाई होगी. बिना विभागीय पदाधिकारी के निर्देश मिले कोई भी पुलिसकर्मी दुकानों की सीधी छानबीन नहीं करेंगे. वहीं लाइसेंस का नवीनीकरण केंद्रीय गजट में जारी किये गये निर्देश के अंतर्गत ही होगा. इस निर्णय के बाद जिला संघ के संजय सिंह, ज्ञानेश्वर जायसवाल, अभय कुमार, ललितेश्वर शर्मा आदि ने हर्ष जताया है. 
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement