1. home Hindi News
  2. national
  3. security arrangements tight in delhi before farmers protest at parliament special cp visited jantar mantar vwt

किसानों के संसद घेराव के पहले दिल्ली में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी, विशेष आयुक्त ने जंतर-मंतर का किया दौरा

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
जंतर-मंतर पर तैनात सुरक्षा बलों के जवान.
जंतर-मंतर पर तैनात सुरक्षा बलों के जवान.
फोटो : ट्विटर.

नई दिल्ली : तीन कृषि कानूनों के विरोध में कई महीनों से आंदोलन कर रहे किसानों ने गुरुवार को संसद के सामने प्रदर्शन करने का फैसला किया है. किसानों के इस फैसले के बाद दिल्ली की सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है. बुधवार को दिल्ली पुलिस के विशेष आयुक्त (क्राइम) सतीश गोलचा और संयुक्त आयुक्त जसपाल सिंह ने किसानों के इस प्रदर्शन के दौरान सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेने के लिए जंतर-मंतर का दौरा किया.

समाचार एजेंसी एएनआई की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार, तीन कृषि कानूनों के विरोध में किसानों के प्रस्तावित प्रदर्शन को लेकर दिल्ली पुलिस के विशेष आयुक्त (क्राइम) सतीश गोलचा और संयुक्त आयुक्त जसपाल सिंह ने जंतर-मंतर का दौरा किया. हालांकि, दिल्ली पुलिस ने कहा कि संसद के सामने प्रदर्शन करने के लिए उसकी ओर से लिखित अनुमति नहीं दी गई है.

उधर, मीडिया की ओर से दी गई रिपोर्ट में इस बात की चर्चा की जा रही है कि तीन कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलनरत किसानों के संसद के सामने प्रदर्शन किए जाने को लेकर दिल्ली पुलिस और संयुक्त किसान मोर्चा के बीच बैठक की गई, जिसमें किसानों ने कहा कि मानसून सत्र के दौरान ही वे संसद का घेराव करेंगे और तीन कृषि कानूनों के खिलाफ जंतर-मंतर पर धरना देंगे. किसानों का दावा है कि अलग-अलग बसों में सवार होकर करीब 200 किसान जंतर-मंतर पर प्रदर्शन करेंगे और उसके बाद धरने पर बैठ जाएंगे.

दिल्ली पुलिस के आधिकारिक सूत्रों के हवाले से मीडिया की रिपोर्ट्स के अनुसार, किसानों के संसद घेराव और धरना-प्रदर्शन को लेकर जंतर-मंतर पर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है. उन्होंने कहा कि गुरुवार की सुबह करीब 10.30 बजे किसान जंतर-मंतर पर पहुंच जाएंगे. इस दौरान दिल्ली पुलिस और अर्धसैनिक बलों की पांच-पांच टुकड़ियों को मौके पर तैनात किया जाएगा. किसानों के पहचान पत्र की जांच करने के बाद ही उन्हें प्रदर्शन स्थल पर जाने दिया जाएगा. प्रदर्शन समाप्त करने के बाद शाम पांच बजे वे वापस सिंघु बॉर्डर वापस लौट जाएंगे.

posted by : Vishwat Sen

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें