1. home Hindi News
  2. tech and auto
  3. facebook said sending money through whatsapp will be as easy as sending messages whatsapp launches payment service in india rjv

फेसबुक ने कहा- मैसेज भेजने जितना आसान होगा व्हाट्सऐप से पैसे भेजना

By Agency
Updated Date
facebook whatsapp pay
facebook whatsapp pay
fb

व्हाट्सऐप ने शुक्रवार को कहा कि उसने नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) से अनुमति पाने के बाद भारत में अपनी भुगतान सेवाओं की शुरुआत की है. फेसबुक के स्वामित्व वाली कंपनी ने 2018 में भारत में अपनी यूपीआई आधारित भुगतान सेवा का परीक्षण शुरू किया था, जो उपयोगकर्ताओं को धनराशि भेजने और पाने के लिए मैसेजिंग प्लेटफॉर्म का उपयोग करने की अनुमति देती है.

यह परीक्षण करीब 10 लाख उपयोगकर्ताओं के बीच किया गया, क्योंकि इसके लिए नियामक मंजूरियों का इंतजार था. एनपीसीआई ने गुरुवार को व्हाट्सऐप को देश में क्रमिक रूप से भुगतान सेवा शुरू करने की अनुमति दी, और शुरुआत में यूपीआई में पंजीकृत अधिकतम दो करोड़ उपयोगकर्ताओं को यह सेवा दी जाएगी.

आज से, पूरे भारत में लोग व्हाट्सऐप के जरिए धन भेज पाएंगे. भुगतान के इस सुरक्षित तरीके में धन भेजना इतना ही आसान है, जितना कोई संदेश भेजना. लोग नकद लेनदेन या बैंक जाए बिना सुरक्षित रूप से परिवार के किसी सदस्य को धन भेज सकते हैं या सामान का मूल्य चुका सकते हैं.

इसमें लिखा गया है कि भुगतान सुविधा को यूपीआई का इस्तेमाल कर एनपीसीआई के साथ साझेदारी में तैयार किया गया है, जो एक तत्काल भुगतान प्रणाली है और 160 से अधिक समर्थित बैंकों के साथ लेनदेन को सक्षम बनाता है.

इस साल जून में व्हाट्सऐप ने ब्राजील में 'व्हाट्सऐप पे' की शुरुआत की थी, जो इस तरह की पहली सेवा थी. भारत में व्हाट्सऐप के 40 करोड़ से अधिक उपयोगकर्ता हैं और भारत उसका सबसे बड़ा बाजार है. कंपनी को अपनी नई पेशकश के साथ पेटीएम, गूगल पे, वालमार्ट के स्वामित्व वाले फोनपे और अमेजन पे जैसे बड़े खिलाड़ियों से मुकाबला करना होगा.

ब्लॉग पोस्ट के मुताबिक, आईफोन और एंड्रॉइड ऐप के नवीनतम संस्करण पर लोगों के लिए व्हाट्सऐप पर भुगतान (सेवा) अब उपलब्ध है. हम भारत में डिजिटल भुगतान की सुविधा और उपयोग बढ़ाने के अभियान में शामिल होकर उत्साहित हैं.

कंपनी ने आगे बताया कि उसके मंच से धन भेजने के लिए लोगों को एक बैंक खाते और एक डेबिट कार्ड की जरूरत होगी. व्हाट्सऐप ने कहा कि वह भारत में पांच बैंकों- आईसीआईसीआई बैंक, एचडीएफसी बैंक, एक्सिस बैंक, भारतीय स्टेट बैंक और जियो पेमेंट्स बैंक के साथ काम कर रही है और लोग यूपीआई समर्थित ऐप का उपयोग करके किसी को भी व्हाट्सऐप पर धन भेज सकते हैं.

ब्लॉग पोस्ट के मुताबिक, हमारा मानना है कि लंबे समय में व्हाट्सऐप और यूपीआई के मेल से कुछ प्रमुख चुनौतियों का सामना करने में मदद मिल सकती है, जिसमें डिजिटल अर्थव्यवस्था में ग्रामीण भागीदारी को बढ़ाना शामिल है. कंपनी ने कहा कि उसकी भुगतान सेवा सुरक्षा और गोपनीयता के सिद्धांतों को ध्यान में रखकर तैयार की गई है, जिसमें प्रत्येक भुगतान के लिए एक व्यक्तिगत यूपीआई पिन दर्ज करना शामिल है.

फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने एक वीडियो संदेश में कहा, इसके लिए कोई शुल्क नहीं है. क्योंकि ये व्हाट्सऐप है, आप जानते हैं कि ये सुरक्षित और गोपनीय भी है. यूपीआई के साथ भारत ने वास्तव में कुछ खास बनाया है और ये सूक्ष्म तथा छोटे कारोबारियों के लिए अवसरों की एक दुनिया खोल रहा है, जो भारतीय अर्थव्यवस्था की रीढ़ हैं.

उन्होंने कहा कि व्हाट्सऐप के 10 भारतीय संस्करणों में भुगतान सेवा उपलब्ध होगी. दिलचस्प बात यह है कि व्हाट्सऐप को मंजूरी देने के साथ ही एनपीसीआई ने व्हाट्सऐप या गूगल पे, फोनपे जैसे उसके प्रतिद्वंद्वियों के लिए कुल यूपीआई लेनदेन की मात्रा पर 30 प्रतिशत की सीमा लगा दी है. इससे एकाधिकार की स्थिति को रोकने में मदद मिलेगी.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें