1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. calcutta
  5. infosys will establish software development center newtown sillicon valley at kolkata mamata banerjee announced the waiver of land tax of lockdown period west bengal news mtj

बंगाल के न्यूटाउन सिलिकॉन वैली में सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट सेंटर बनायेगी इंफोसिस, ममता बनर्जी ने ‘भूमि कर’ को किया माफ

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Infosys, West Bengal News, Mamata Banerjee: बंगाल के न्यूटाउन सिलिकॉन वैली में सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट सेंटर बनायेगी इंफोसिस, ममता बनर्जी ने ‘भूमि कर’ को किया माफ.
Infosys, West Bengal News, Mamata Banerjee: बंगाल के न्यूटाउन सिलिकॉन वैली में सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट सेंटर बनायेगी इंफोसिस, ममता बनर्जी ने ‘भूमि कर’ को किया माफ.
Image for Representation

Infosys, West Bengal News, Mamata Banerjee: कोलकाता : विश्व की दिग्गज सूचना प्रौद्योगिकी सेवा कंपनी इंफोसिस पश्चिम बंगाल के न्यूटाउन सिलिकॉन वैली में सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट सेंटर की स्थापना करेगी. इसका निर्माण जुलाई, 2021 में शुरू होगा. यह घोषणा पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने की है. उन्होंने कहा है कि इंफोसिस कोलकाता में प्रस्तावित सॉफ्टवेयर विकास केंद्र का निर्माण जुलाई 2021 में शुरू करेगी.

कैबिनेट की बैठक के बाद उन्होंने कहा कि परियोजना से आइटी क्षेत्र में बड़ी संख्या में रोजगार सृजित होंगे. ममता बनर्जी ने कहा, ‘हमने इंफोसिस को पत्र लिखकर उससे यहां सॉफ्टवेयर विकास केंद्र स्थापित करने को कहा है. इसके लिए हम उन्हें जमीन दे रहे हैं. कंपनी हमारे प्रस्ताव पर सहमत है. इंफोसिस अंतिम रूप से मंजूर योजना दिसंबर में देगी.’

उन्होंने कहा कि देश की दूसरी सबसे बड़ी आइटी सेवा कंपनी विकास केंद्र के निर्माण का कार्य अगले साल जुलाई में शुरू करेगी और इसे 24 महीनों में पूरा करने का लक्ष्य है. मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य मंत्रिमंडल ने न्यूटाउन सिलिकॉन वैली में 100 एकड़ जमीन 20 नयी आइटी कंपनियों को भी देने को भी मंजूरी दी. उन्होंने कहा कि मंत्रिमंडल ने विप्रो को सिलिकॉन वैली में एक और आइटी क्षेत्र स्थापित करने को मंजूरी दे दी है.

ममता बनर्जी ने कहा कि जो लोग 23 मार्च, 2020 से लॉकडाउन के कारण भूमि कर नहीं दे पाये, उन्हें पिछले साल का बकाया 6.25 प्रतिशत ब्याज के साथ चुकाना था. उन्होंने कहा, ‘लेकिन हमारी सरकार मानवीय पहलुओं को ध्यान में रखती है. इसीलिए हमने अंतिम तिथि बढ़ाकर जून कर दी है. साथ ही इस ब्याज से छूट देने का निर्णय किया है.’

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें