1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. calcutta
  5. 72 deaths due to amfan in bengal compensation of 25 lakh to the families of the deceased cm announces rs 1000 crore fund for relief

बंगाल में ‘अम्फान’ से 72 की मौत, मृतक के परिजनों को 2.5 लाख का मुआवजा, सीएम ने राहत के लिए 1000 करोड़ रुपये के फंड की घोषणा की

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
चक्रवाती तूफान 'अम्फान' से बंगाल के पूर्वी मेदिनीपुर में गिरे घर व उखड़े बिजली के खंभे.
चक्रवाती तूफान 'अम्फान' से बंगाल के पूर्वी मेदिनीपुर में गिरे घर व उखड़े बिजली के खंभे.
फोटो : रंजन मइति.

कोलकाता : पश्चिम बंगाल (West Bengal) में चक्रवाती तूफान ’अम्फान’(Cyclone Amphan) से 72 लोगों की मौत हुई है. इनमें से पश्चिम बंगाल के विभिन्न प्रभावित जिले उत्तर 24 परगना, दक्षिण 24 परगना, नदिया, पूर्व मेदिनीपुर, हुगली व हावड़ा के 57 लोग हैं, जबकि कोलकाता के 15 लोग हैं. इनमें से ज्यादातर लोगों की मौत पेड़ गिरने, घर गिरने व बिजली के करंट लगने से हुई है. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (CM Mamta Banerjee) ने मृतकों के परिजनों को 2.5- 2.5 लाख रुपये मुआवजा देने की घोषणा की है. साथ ही राहत व बचाव कार्य के लिए 1000 करोड़ रुपये के फंड बनाने की भी घोषणा की है.

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राज्य सचिवालय, नबान्न में वरिष्ठ अधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग कर बैठक की. बैठक के बाद संवाददाताओं के साथ बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री से अनुरोध किया है कि वह आकर खुद स्थिति को देखें. निश्चित रूप से वह भी देखे होंगे. केंद्र सरकार से मदद मांगी हूं. युद्धकालीन परिस्थिति में काम करना होगा. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी फोन किया था और पूरी स्थिति की जानकारी ली व मदद का आश्वासन दिया है. उन्होंने कहा कि ऐसी स्थिति कभी नहीं देखी थी. बहुत ही भयंकर आपदा है. केंद्र सरकार को मदद करनी चाहिए. वह खुद शनिवार को प्रभावित इलाकों में जाने की कोशिश करेंगी. मंत्री जिलों में जायेंगे.

1000 करोड़ रुपये का फंड बनाया

सुश्री बनर्जी ने कहा कि हालांकि पैसे नहीं हैं, लेकिन राहत व बचाव के लिए प्राथमिक रूप से 1000 करोड़ रुपये का फंड का गठन किया गया है. यह मूलत: पेयजल, नदी बांध निर्माण, बिजली बहाली सहित प्राथमिक कार्य किया जायेगा. उन्होंने कहा कि फोन से भी संपर्क टूट गया था. लगभग पांच हजार पेड़ उखड़ गये हैं. बड़ी संख्या में बिजली के खंभे भी उखड़ गये हैं. नदी बांध भी बड़ी संख्या में टूटे हैं.

उत्तर 24 परगना और दक्षिण 24 परगना में सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है. वह शीघ्र ही जिलाधिकारियों के साथ भी बैठक करेंगी. 400 किलोमीटर तक लगातार ताडंव चला. पूरा रिपोर्ट मिलने पर समय लगेगा. राज्य सरकार सतर्क थी. इस कारण लाखों लोगों को बचा पायें. कई इलाके में अभी भी पेयजल नहीं है. सबसे पहले पेयजल व बिजली की व्यवस्था करनी होगी. बच्चे को खाने का अभाव व पशु खाद्य का अभाव न हो, इस पर विशेष ध्यान देना होगा. रास्ता व सड़क पथ पूरी तरह से बंद है. बहुत क्षति हुई है. यह कोविड से भी भयानक आपदा है. बंगाल ने अपनी चुनौती झेली है, लेकिन भय का कुछ नहीं है. इससे भी मुकाबला कर लेगें. बाढ़ को लेकर पहले से सतर्कता लेनी होगी. नदी बांध की शीघ्र मरम्मत करनी होगी.

मृतकों में जिलों के 57 व कोलकाता के 15

तूफान 'अम्फान' की चपेट में आने से कइ लोगों की जान गयी है. मृतकों में जिलों में कुल 57 लोगों की मौत हुई है. इनमें उत्तर 24 परगना में 17, दक्षिण 24 परगना में 18, हावड़ा में 7, नदिया में 6, पूर्व मेदिनीपुर में 6 व हुगली में 2 सहित अन्य शामिल हैं. जबकि रिजेंट पार्क में 2 लोगों की जान गयी. इसके अलावा तिलजला, पर्णश्री, मानिकतला, बेनियापुकुर, जोड़ासांकू, गिरीश पार्क, विवेकानंद रोड, बड़ाबाजार, कोलकाता क्लब के पास, अलीमुद्दीन स्ट्रीट में एक - एक लोगों सहित अन्य लोगों की मौत हुई है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें