1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bengal election 2021 cm mamata banerjee attacks bjp on nrc and npr if you want to stay in detention camp then choose bjp

Bengal Chunav 2021: 'डिटेंशन कैंप में रहना है तो बीजेपी को चुनें', ममता का NRCऔर NPR को लेकर BJP पर हमला

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
'डिटेंशन कैंप में रहना है तो बीजेपी को चुनें', ममता का NRCऔर NPR को लेकर BJP पर हमला
'डिटेंशन कैंप में रहना है तो बीजेपी को चुनें', ममता का NRCऔर NPR को लेकर BJP पर हमला
social media

Bengal Chunav 2021: बंगाल चुनाव में असम की भी एंट्री हो गयी है. असम में एनआरसी और एनपीआर को लेकर ममता बनर्जी ने बीजेपी पर हमला बोला. ममता बनर्जी ने कहा बीजेपी की सरकार बनने पर बंगाल की जनता को असम की तरह डिटेंशन कैंप में रहना पड़ेगा. अगर डिटेंशन कैंप में रहना है तो बीजेपी को चुनें. टीएमसी की सरकार बनने पर किसी को डिटेंशन कैंप में रहने की जरूरत नहीं पड़ेगी.

कूचबिहार में चुनाव प्रचार कर रही ममता बनर्जी ने जनसभा में एक के बाद एक बीजेपी पर तंज कसा. जनसभा को संबोधित करते हुए ममता बनर्जी ने कहा, असम में एनआरसी और एनपीआर कर 14 लाख बंगालियों का नाम वोटर लिस्ट से हटा दिया गया है. उन्होंने बंगाल की जनता से सवाल पूछा, क्या वो आपलोगों के भाई-बहन नहीं थे?आप लोगों को कष्ट नहीं हुआ? ममता बनर्जी ने बीजेपी को बहुरूपिया शैतान बताया है.

ममता बनर्जी ने बीजेपी पर तंज कसते हुए कहा, चुनाव आने पर मंदिरों के दर्शन करते हैं और उसके बाद सबकुछ करते हैं. अब तो नोट के बदले वोट की राजनीति में भी बीजेपी उतर चुकी है. ममता बनर्जी ने बीजेपी पर फिर बाहरी का आरोप लगाकर कहा, बीजेपी के लोग बंगला भाषा और बंगाल की संस्कृति नहीं जानते हैं और बंगाल में राज करने का सपना देख रहे हैं. ममता बनर्जी ने असम का जिक्र करते हुए कहा, असम के लोग अभी डिटेंशन कैंप में हैं. अगर बीजेपी की जीत होती है तो बंगाल में भी वो असम की तरह ही एनआरसी और एनपीआर लागू करेंगे.

टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी ने कहा, बंगाल की जनता डिटेंशन कैंप नहीं रहना चाहती हैं तो बीजेपी को वोट ना दें.टीएमसी की सरकार बनने पर बंगाल में एनआरसी या एनपीआर लागू नहीं होगी. ममता बनर्जी ने कहा, बीजेपी धर्म के नाम पर बंटवारे की राजनीति करती है. कभी बंगाली लोगों को तो कभी राजवंशी को आपस में लड़वा देती हैं. मैं ब्राह्मण घर की बेटी हूं. पहले मुझे ये सब बोलने की जरूरत नहीं पड़ती थी लेकिन अभी बीजेपी के कारण ये सब बोलने के लिए बाध्य हूं. मैं सभी धर्मों का सम्मान करती हूं.

Posted by : Babita Mali

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें