1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. agra
  5. women struggling with water shortage do matka phod agitation in agra nrj

Agra News: 3 महीने से पानी की किल्लत के बाद फूटा लोगों का गुस्सा, जाम किया रोड, मह‍िलाओं ने फोड़े मटके

शहीद नगर क्षेत्र में पानी ना आने की वजह से लोग अपने रोजमर्रा के काम नहीं कर पा रहे हैं. दूसरी तरफ गर्मी में अपने लिए पानी का इंतजाम करने की जद्दोजहद में जुटे हुए हैं. पानी की समस्या के लिए कई बार क्षेत्रीय लोगों ने जलकल से लेकर नगर निगम तक में शिकायत की लेकिन 3 महीने बाद भी समस्‍या बरकरार है.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Agra
Updated Date
मटका फोड़कर मह‍िलाओं ने जताया विरोध.
मटका फोड़कर मह‍िलाओं ने जताया विरोध.
Prabhat Khabar

Agra News: भीषण गर्मी में जहां एक तरफ लोग तपते हुए नजर आ रहे हैं. जिले के वार्ड 78 शहीद नगर क्षेत्र में करीब 3 महीने से पानी की एक-एक बूंद के लिए संघर्ष कर रहे हैं. इसके विरोध में रविवार को महिलाओं ने भारी संख्या में एकत्र होकर मटका फोड़ प्रदर्शन किया. प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की.

अभी तक उनकी सुनवाई नहीं हुई

ताजनगरी में गर्मी इस समय अपने चरम पर है. ऐसे में गर्मी में सबसे ज्यादा जरूरत लोगों को पानी और बिजली की होती है. पानी के लिए लोग कुछ भी करने को तैयार होते हैं. आगरा के शहीद नगर क्षेत्र में पानी ना आने की वजह से लोग अपने रोजमर्रा के काम नहीं कर पा रहे हैं. जिले के वार्ड 78 शहीद नगर के अशफाक उल्ला पार्क व बड़ी मस्जिद के आसपास सभी जगह पर करीब 3 महीने से पानी की गंभीर समस्या बनी हुई है. जिसके लिए कई बार क्षेत्रीय लोगों ने नगर निगम, जलकल और जिला प्रशासन को अवगत कराया है लेकिन अभी तक उनकी सुनवाई नहीं हुई है.

टैंकर की भी यहां पर कोई व्यवस्था नहीं

शहीद नगर के निवासी शकील खान ने बताया कि उनके क्षेत्र में स्थित जलकल का ट्यूबवेल नंबर 10, 3 महीने से बंद पड़ा हुआ है. और अगर उसमें कभी पानी आता है तो वह सिर्फ 1 इंच की पाइप लाइन से निकलता है. जिससे आसपास के लोगों की पूर्ति नहीं हो पाती. उन्होंने बताया कि पहले इस ट्यूबेल में 15 हॉर्स पावर की मोटर लगी हुई थी जो अब 5 हॉर्स पावर की लगा दी है. और इस ट्यूबवेल से क्षेत्र के करीब 603 घरों को पानी की आपूर्ति की जाती है. टैंकर की भी यहां पर कोई व्यवस्था नहीं है अगर टैंकर आता भी है तो वह गिने-चुने घरों में पानी देकर चला जाता है. बाकी सभी लोग दूर-दूर से अपने घर के लिए पानी का इंतजाम करके लाते हैं. वहीं उनका कहना है कि करीब 15 साल पहले यहां पर एक पाइप लाइन डाली गई थी और कहा गया था कि इसमें गंगाजल आएगा लेकिन अभी तक उसमें पानी नहीं आया है. अगर प्रशासन हमारी सुनवाई नहीं करता तो हम अगली बार एमजी रोड पर प्रदर्शन करेंगे.

...तो बड़े आंदोलन को मजबूर होंगे

क्षेत्रीय निवासी मीना का कहना है कि यहां पर सभी लोग पानी की एक-एक बूंद को तरस रहे हैं. पानी के लिए उन्हें या तो फिल्टर पानी खरीदना पड़ता है. या फिर कहीं से खारे पानी की व्यवस्था करके लाते हैं. और उसी से काम चलाना पड़ रहा है. अगर हमारी सुनवाई नहीं हुई तो हम जाम लगाने को मजबूर होंगे. शहीद नगर क्षेत्र के सैकड़ों लोगों ने पानी की समस्या को लेकर शहीद नगर चौराहे पर जाम लगाया और मटकी फोड़ कर प्रदर्शन किया. उनका साफ कहना है कि इस बार अगर प्रशासन ने उनकी बात नहीं सुनी और क्षेत्र में पानी की व्यवस्था को सुचारू नहीं कराया तो वह बड़े आंदोलन को मजबूर होंगे.

रिपोर्ट : राघवेंद्र गहलोत

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें