एनसीसी का लक्ष्य देश की सेवा

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

कोलेबिरा : जवाहर नवोदय विद्यालय कोलेबिरा में रविवार को एनसीसी दिवस मनाया गया. मौके पर विद्यालय के प्रांगण में झंडे को सलामी दी गयी व परेड का आयोजन किया गया.

मौके पर विद्यालय के उप प्राचार्य चंदन बागीश ने कहा कि आजादी के बाद यूओटिसी व यूटिसी को मिला कर एनसीसी का गठन किया गया. 1948 में एनसीसी छात्रों के लिए भी जगह दी गयी, ताकि वे भी समान अवसर प्राप्त कर सके व देश को अपनी सेवाएं दे सकें. आज एनसीसी कैडेट्स ने वैश्विक स्तर पर अपनी प्रतिभा का परचम लहराया है. एनसीसी का लक्ष्य देश की सेवा है.
एनसीसी प्रभारी विकास चंद्रा ने बताया कि एनसीसी की स्थापना 16 जुलाई 1948 को हुई थी तथा प्रतिवर्ष नवंबर के चौथे रविवार को एनसीसी दिवस मनाया जाता है. एनसीसी कैडेट्स को धर्म निरपेक्षता, उत्तम चरित्र, नेतृत्व की भावना व मिलजुल कर कार्य करना सिखाया जाता है. इसलिए समाज के हर वर्ग में एनसीसी कैडेट्स सफल साबित होते हैं.
उन्होंने कहा कि एनसीसी कैडेट्स न सिर्फ रक्षा सेवा बल्कि जीवन के हर क्षेत्र में बढ़-चढ़ कर भाग लेते हैं. इस दौरान विद्यालय के 50 एनसीसी कैडेट्स ने परेड में भाग लिया. मौके पर रामायण पासवान, श्रवण कुमार चौरसिया, भोजलाल लिल्हारे,गौतम कुमारी, पूनम कुमारी, रंजु कुमारी आदि मौजूद थे .
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें