1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. jac 10th 12th result formula 2021 only 9th and 11th will be the basis of jac 10th 12th result but only this is not guaranteed to pass know what will be the mandatory conditions srn

JAC 10th 12th Result Formula 2021 : 9वीं व 11वीं ही होगा जैक 10वीं, 12वीं के रिजल्ट का आधार लेकिन सिर्फ इतना ही पास होने की गारंटी नहीं, जानें क्या होगी अनिवार्य शर्तें

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
नौ व 11वीं ही होगा जैक 10वीं, 12वीं के रिजल्ट का आधार
नौ व 11वीं ही होगा जैक 10वीं, 12वीं के रिजल्ट का आधार
फाइल फोटो

jac 10th, 12th marks calculation 2021 रांची : मैट्रिक-इंटरमीडिएट परीक्षा 2021 के परीक्षार्थियों के मूल्यांकन की प्रक्रिया तय कर दी गयी है. वर्ष 2020 की कक्षा नौ व 11वीं की परीक्षा के प्राप्तांक को इस वर्ष मैट्रिक-इंटर के रिजल्ट का मुख्य आधार बनाया गया है. परंतु कक्षा नौ व 11वीं में पास होने भर से विद्यार्थी मैट्रिक-इंटर की परीक्षा में भी पास हो जायेंगे, इसकी गारंटी नहीं है. कक्षा नौ व और 11वीं की परीक्षा में पांचवें विषय में फेल विद्यार्थी को मैट्रिक-इंटर की परीक्षा में संबंधित विषय में 33 अंक लाना होगा, तभी वे परीक्षा पास कर सकेंगे.

इधर, रिजल्ट तैयार करने की प्रक्रिया तय करने को लेकर झारखंड एकेडमिक काउंसिल द्वारा गठित कमेटी की गुरुवार को बैठक हुई. इसमें रिजल्ट तैयार करने के लिए विभिन्न पहलुओं पर विचार किया गया. इसके बाद कमेटी ने रिजल्ट को लेकर अपनी अनुशंसा जैक को सौंप दी.

जैक द्वारा रिजल्ट तैयार करने का प्रस्ताव अभी स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग को भेजा जायेगा.

जानकारी के अनुसार, कक्षा नौ व 11वीं में पांच विषय की परीक्षा ली जाती है. इसमें चार विषय में पास होनेवाले विद्यार्थी सफल माने जाते हैं. वहीं मैट्रिक व इंटरमीडिएट में अतिरिक्त विषय मिला कर छह विषय की परीक्षा होती है एवं पांच विषय में पास होना अनिवार्य होता है. ऐसे में कक्षा नौ व 11 वीं के वैसे विद्यार्थी जो चार विषय में ही पास थे, उन्हें मैट्रिक-इंटर की परीक्षा पास करने के लिए पांचवें विषय में भी पास करना होगा. रिजल्ट को लेकर तय किये गये फार्मूला के अनुरूप पांचवें विषय में भी 33 अंक लाने के बाद ही परीक्षार्थी मैट्रिक-इंटर की परीक्षा पास कर सकेंगे.

झारखंड एकेडमिक काउंसिल (जैक)

कक्षा नौ व 11वीं में पांच में से चार विषय में पास होने पर प्रमोट होते हैं विद्यार्थी

मैट्रिक-इंटर में छह विषय की होती है परीक्षा, पांच में पास होना अनिवार्य

5वें विषय में पास मार्क्स लाने का फार्मूला

पांचवें विषय में पास मार्क्स लाने का फार्मूला कमेटी द्वारा तय की गयी है. इसके अनुरूप अगर कोई विद्यार्थी कक्षा नौ की बोर्ड परीक्षा में गणित में फेल है, तो उसे मैट्रिक की परीक्षा में गणित में होनेवाले इंटरनल असेसमेंट व नौ की परीक्षा में गणित में मिले अंक मिला कर पास मार्क्स 33 अंक लाना होगा. 33 अंक प्राप्त करने के बाद विद्यार्थी उस विषय में पास हो जायेंगे.

सभी विषय में इंटरनल असेसमेंट नहीं

जिन विषयों में प्रायोगिक परीक्षा होगी, उनमें इंटरनल असेसमेंट नहीं किया जायेगा. उन विषयों में प्रायोगिक परीक्षा के अंक जोड़े जायेंगे. इंटरनल असेसमेंट 20 अंकों की होगी. यह विद्यालय व कॉलेज के स्तर पर किया जायेगा.

Posted By : Sameer Oraon

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें