रांची : राजस्व वसूली तेज करें कोताही नहीं हो : सीएस

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
रांची : मुख्य सचिव डॉ डीके तिवारी ने सोमवार को अलग-अलग विभागों की राजस्व वसूली की स्थिति की समीक्षा की. इस दौरान उन्होंने अफसरों को राजस्व वसूली में तेजी लाने के निर्देश दिये. कहा कि किसी भी तरह अड़चनें हो, तो उसे दूर करें. राजस्व वसूली में कोताही बर्दाश्त नहीं की जायेगी.
मुख्य सचिव ने कहा कि राजस्व वसूली की बैठक हर डेढ़ माह में हो. उन्होंने खनन क्षेत्र से राजस्व वसूली की समीक्षा की. कहा कि इसमें जो भी लीकेज है, उसे तत्काल बंद करें. वाणिज्य कर विभाग से कहा कि वह अभी 40 फीसदी राजस्व वसूली कर लिया है. कहा कि चुनाव को देखते हुए वसूली की रफ्तार तेज करें, ताकि लक्ष्य हासिल हो सके.
55 फीसदी वसूली की है उत्पाद विभाग ने
समीक्षा में यह बात सामने आयी कि उत्पाद विभाग ने 15 सितंबर तक 55 फीसदी राजस्व की वसूली की है. विभाग ने 1800 करोड़ लक्ष्य के विरुद्ध 987 करोड़ की वसूली की है. समीक्षा में में पाया गया कि पंजाब व हरियाणा से दूसरे राज्यों में जानेवाली शराब की खेप चौपारण व धनबाद के बीच खपत हो रही है.
इससे राजस्व की हानि हो रही है. इससे निबटने के लिए वाहनों में डिजिटल लॉक लगाने को कहा गया है. मुख्य सचिव ने कहा कि परिवहन नियमों के उल्लंघन पर जुर्माना वसूली को पारदर्शी व विश्वसनीय बनाया जाये. जुर्माना रसीद पर विभाग को होलोग्राम हो. फर्जीवाड़ा पर रोक लगायी जा सकेगी.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें