ओरिएंट क्राफ्ट की साइट से नौ बाल श्रमिक पकड़े गये

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
रांची : बाल अधिकार संरक्षण आयोग की टीम ने अोरिएंट क्राफ्ट की खेलगांव साइट से छह बाल श्रमिकों को पकड़ा है. वहीं छह बच्चे वहां से भाग गये. पकड़े गये बच्चों में से चार बिहार के कटिहार तथा दो अन्य गढ़वा के बताये जा रहे हैं. इन्हें अभी हेहल स्थित बालाश्रय में रखा गया है.
उधर, इसी साइट के सामने खेलगांव-टाटीसिलवे मार्ग के दूसरी तरफ, जहां कांटा टोली फलाई अोवर की निर्माण सामग्री का स्टोरेज बन रहा है, तीन नाबालिग लड़कियां काम करती पायी गयीं. इन्हें भी रेस्क्यू कर प्रेमाश्रय, हेहल में रखा गया है. खेलगांव अोपी क्षेत्र में अोरिएंट क्राफ्ट कारखाने का निर्माण कार्य करा रही कंपनी के लोगों ने आयोग की अध्यक्ष आरती कुजूर व उनकी टीम के सामने तर्क दिया कि संबंधित लोगों (बच्चों) का अाधार कार्ड के जरिये उम्र की जानकारी लेकर ही काम पर रखा गया है.
कार्य स्थल पर बाल श्रम के प्रतिरोध संबंधी तख्ती भी लगी है. पर निर्माण कंपनी के लोगों के पास इस बात का कोई जवाब नहीं था कि आखिर 18 वर्ष से कम उम्र के बच्चे वहां काम कैसे कर रहे हैं. दरअसल आयोग को संबंधित स्थल पर बच्चों से काम लिये जाने की सूचना टाटी पश्चिमी के पंचायत समिति सदस्य शैलेश मिश्र ने कुछ दिन पहले दी थी. इसी के बाद यह कार्रवाई की गयी.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें